इंसान जब से धरती पर आया है तब से खाना खाता आ रहा है। इंसान पहले मांस खाता था लेकिन अब अनाज खाता है। अभी के समय में खाने के की साधन हो गए हैं। अगर कहा जाए कि अनाज हमारे लिए नुकसानदायक हो सकता है तो पागल ठहरा सकते हैं लेकिन बता दें कि फास्ट फूड खाने से ही नहीं इंसान अनाज खाने से भी बीमार होता है। आपको इस बात का यकीन नहीं होगा की रोटी से भी एलर्जी हो सकती है।


आप जानकर हैरान हो जाओगे कि बहुत से लोगों को गेहूं में मिलने वाले प्रोटीन ग्लूटेन को पचा नहीं पाते हैं| क्योंकी कई लोगों को ग्लूटेन नाम के प्रोटीन से एलर्जी होने लगती है और जब इसके एलर्जी होने लगती है तो कब्ज रहती है, दस्त और गैस की भी शिकायत रहती हैं, तो कुछ को एसिडिटी की समस्या रहती है। अगर आप भी कुछ इसी तरह का महसूस करते है तो समझ लिजिये कि आपको अनाज से एलर्जी हो गई है।


बता दें कि आपक भी इस तरह की शिकायत है तो 3-4 हफ्ते के लिए गेहूं वाले उत्पाद खाना बंद करें और देखें कि क्या कोई फर्क पड़ता है| अगर आपको बदलाव महसूस होता है, तो यह ग्लूटेन एलर्जी का संकेत है। हाथों पैरों का सून्न होना भी इसका एक संकेत हो सकता है। ये समस्या खासकर डायबटीज के मरीजों में भी काफी देखने को मिलती है तो जौं, बाजरा और कुट्टू के आटे में ग्लूटेन यूक्त कोई भी सामग्री ना ले है।