बिहार के गोपालगंज में डुमरिया सेतु पर बाइक सवार युवक से लूटपाट करने के बाद अपराधियों ने गंडक नदी में फेंक दिये जाने के बाद घटना से गुस्साए परिजनों ने डुमरिया सेतु पर एनएच 28 को जाम कर दिया है। 

एनएच 28 जाम किये जाने के कारण दिल्ली से असम को जोड़ने वाली लाइफलाइन पर वाहनों का परिचालन ठप हो गया है। बोधगया से कुशीनगर जानेवाले थाईलैंड के पर्यटक भी जाम में फंसे  हैं। वहीं, इस घटना के विरोध में आक्रोशित परिजनों ने महम्मदपुर थाना क्षेत्र के डुमरिया सेतु को जाम कर दिया है।


बेटा नहीं मिला तो नदी में कूदकर दे दूंगा जान
रोते हुए अनीष के पिता सुकांत पांडेय ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि मेरा बेटा नहीं मिला, तो मैं भी इसी नदी में कूदकर जान दे दूंगा। पिता ने कहा कि बेटे ने फोन पर बार-बार 'पापा बचाओ'-'पापा बचाओ', ये लोग मेरा सामान लेकर मार देंगे, नदी में फेंक देंगे... कहकर गुहार लगाता रहा। मैं बेबस होकर उसकी बात सुनता रहा। पीड़ित के पिता ने कहा कि घटना की जानकारी सिधवलिया थाने की पुलिस को फोन दी गयी, लेकिन पुलिस विलंब से पहुंची, जिसके कारण अबतक कोई सुराग नहीं मिल सका है।