कर्नाटक में एक पत्नी ने पति की हत्या करवा दी। पुुलिस ने 48 वर्षीय डोरीन कुमार समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने डोरीन को पति जी.कुमार की हत्या की सुपारी देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। डोरीन ने यह कदम इसलिए उठाया क्योंकि उसका सूदखोर पति उन महिलाओं का कर्ज माफ कर देता था जो उसके साथ सेक्स को राजी हो जाती थी। 

पिछले हफ्ते गुरुवार को पुलकेशी नगर पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले कलपल्ली कब्रिस्तान में जी कुमार की हत्या कर दी गई थी। पुलिस के मुताबिक डोरीन को जब पता चला कि उसका पति कर्ज न चुका पाने वाली महिलाओं को अपने साथ सेक्स के लिए मजबूत करता था तो उसने अपने पति की हत्या की साजिश रची। उसने चार लोगों की 30 लाख रुपए में हत्या की सुपारी दी। ईस्ट डिवीजन पुलिस ने डोरीन के अलावा पैट्रिक पी, एस.प्रभु, एस.दिनेश और एस.अविनाश को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि 54 वर्षीय कुमार अपने घर के आस पास के लोगों को ब्याज पर कर्ज देता था। वह महिलाओं को भी ब्याज पर कर्ज देता था। अगर कोई महिला कर्ज नहीं चुका पाती या ब्याज अदा नहीं कर पाती तो कुमार उनके सामने घिनौनी शर्त रखता। वह उन महिलाओं से कहता था कि अगर वे उसके साथ सेक्स कर लें तो उनका कर्ज माफ कर देगा। कथित तौर पर उसके कुछ महिलाओं के साथ अवैध संबंध थे, जिसके बारे में डोरीन को पता था। डोरीन ने कुमार को अपना बर्ताव बदलने को कहा था, लेकिन जब उसने ध्यान नहीं दिया तो उसकी हत्या करवा दी। 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कुमार ने श्रीधर नाम के एक शख्स को 5 लाख का कर्ज दिया था। डोरीन ने श्रीधर से जान पहचान होने पर उसे अपने पति और उसके अवैध संबंधों के बारे में चर्चा की। उसने श्रीधर से कुमार की हत्या में मदद मांगी। इतना ही नहीं वह श्रीधर का कर्ज माफ करने पर भी राजी हो गई। उसने 30 लाख रुपए में सुपारी देने का फैसला किया। 2 लाख रुपए बतौर पेशगी दे दिए। इसके बाद श्रीधर ने प्रभु से संपर्क किया जो एक पेशेवर अपराधी है। 

प्रभु ने इस काम में दिनेश,अविनाश और पैट्रिक की मदद ली। गैंग ने क्लारा और रेवाती नाम की दो महिलाओं से संपर्क किया जो कुमार की करीबी थीं। दोनों महिलाओं की मदद से गैंग ने कुमार को कब्रिस्ता के पास बुलाया। जब कुमार और उसके दोस्त वहां पहुंचे तो गैंग ने कुमार की हत्या कर दी जबकि उसका दोस्त किसी तरह वहां से भागने में कामयाब रहा। हत्या की साजिश में क्लारा और रेवाती की भूमिका के बारे में सबूत मिले तो उन दोनों के खिलाफ भी केस दर्ज किया जाएगा।