मेघालय में नकली ड्रग्स बेचने का नया ​तरीका निकाला है जिसका भंडाफोड पुलिस ने किया है। इससे पहले पुलिस रसना ट्वीट के जरिए ड्रग्स बेचने वालों की पोल खोली थी, लेकिन अब राइस ट्वीट के जरिए ऐसा किया जा रहा है। इसके चलते ड्रग्स बेचने के नए तरीकों का खुलासे हो रहे हैं। 26 सितंबर को मेघालय पुलिस की ANTF टीम ने एक वाहन को पकड़ा था। इसमें 750 ग्राम पफ्टड राइस पाउडर बरामद किया गया। यह पाउडर साबुन के 25 डिब्बों में भरकर लाया गया था। इसको बाजार में हेराइन बताकर बेचा जाना था।

इस घटना के बारे में मेघालय पुलिस ने ट्वीटर पर जानकारी दी है जिसमें लिखा है कि “After Rasna incident, the Dark Night Rices! ANTF East Jaintia Hills intercepted a vehicle & recovered approx. 750 grams of, wait for it, “Powdered Puffed Rice”, packed in 25 soapboxes, to be sold in the market as Heroin. Kudos to ANTF! #RiceAndShine #DrugsFreeMeghalaya.”

पूर्व जयंतियां हिल्स के पुलिस अधीक्षक विवेकानंद सिह ने कहा है कि हमने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक वाहन को जब्त किया है। यह वाहन सिल्चर से आ रहा था जिसमें साबुन की ​25 डिब्बियों में चावल का चूरा जेसा पदार्थ भरा हुआ था। हालांकि यह हेराइन नहीं था बल्कि चावल का चूरा ही था जिसको मार्केट में हेरोइन के तौर पर बेचा जाना था। इस मामले में पुलिस ने वाहन के ड्राइवर तथा उसके साथी को गिरफ्तार किया है। 

आपको बता दें कि मेघालय पुलिस ने 15 अगस्त को ऐलान किया था कि राज्य में ड्रग्स की सप्लाई नहीं हो पा रही है, इस वजह से ड्रग्स की सप्लाई करने वाले लोगों को अन्य चीजें बेचकर मूर्ख बना रहे हैं। ऐसे लोग पहले रसना पाउडर बेचते हुए पकड़े गए थे।