प्रदूषण से राजधानी दिल्ली (Delhi) की सेहत बिगड़ रही है। यहां का औसतन वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स अब भी गंभीर बना हुआ है। इससे लोगों को सांस लेने में मुश्किल हो रही है। सांस फूलने, आंखों में जलन, गले और खांसी की शिकायत लेकर लोग डॉक्टर के पास पहुंच रहे हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि AQI को सामान्य होने में अभी वक्त लगेगा। ऐसे में क्या लोगों के पास वायु प्रदूषण से बचने के लिए कोई उपाय है।

वायु प्रदूषण से निपटने के लिए घरेलू नुस्खों के बारे में शायद ही कभी किसी ने सुना हो, लेकिन पोषण विशेषण कविता देवगन ने तीन ड्रिंक के बारे में बताया है। प्रदूषण के प्रभाव से बचने के लिए आप आसानी से इन्हें घर पर ही बना सकते हैं।

केला और नारियल (Banana and coconut) 

प्रदूषण के दौरान शरीर में पोटेशियम लेवल काफी कम हो जाता है, जिससे सांस लेने में तकलीफ होती है। ऐसे में केला और नारियल पानी दोनों ही आपकी मदद कर सकते हैं, क्योंकि ये दोनों ही पोटेशियम से भरपूर हैं। वहीं अदरक फेफड़ों में जलन के लिए समय से पहले वायु मार्ग के वायु प्रदूषकों को बाहर निकालने में मदद करता है। तो, केले की स्मूदी बनाने के लिए आपको केले का रस, अदरक और नारियल पानी की जरूरत पड़ेगी। इन तीनों को एक साथ एक बर्तन में मैश कर लें और पी जाएं।

आंवला और एप्पल जूस (Amla and Apple Juice)

आंवला और एप्पल जूस का मिश्रण फेफड़ों की कार्यक्षमता को बेहतर बनाता है। इसमें मौजूद क्वेरसेटिन और केलिन के कारण घरघराट कम हो जाती है। यह ब्लॉक हुए वायु के मार्ग को खोलने में मदद करता है। बता दें कि विटामिन सी से भरपूर आंवला पर्यावरणीय विषाक्त पदार्थों के कारण फेफड़ों के ऊतकों को होने वाले नुकसान से रोकने में मदद करता है।

पाइनएप्पल जूस (Pineapple Juice)

पाइनएप्पल जूस स्वाद में बेहद स्वादिष्ट होता है साथ ही स्वास्थ के लिए भी फायदेमंद है। लेकिन शायद आप नहीं जानते कि प्रदूषित हवा से बचने के लिए यह जूस एक वरदान है। दरअसल, अनानास में ब्रोमेलेन एंजाइम होता है, जो फेफड़ों में जमा होने वाले जहरीले मलबे की सफाई करने में मदद करता है। इस तरह से फेफड़ों को नेचुरल तरीके से डिटॉक्स करने में हेल्प मिल जाती है। बता दें कि पुदीना में एंटीहिस्टामाइन होता है, जो बंद नाक, म्यूकस और छींकने जैसे लक्षणों के लिए एंटीडोट्स के तौर पर काम करता है।

आहार विशेषज्ञ द्वारा बताए गए ड्रिंक्स तो वायु प्रदूषण से बचने में आपकी मदद करेंगे ही, लेकिन फेफड़ों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए आपको नियमित रूप से व्यायाम करने और पौष्टिक आहार खाने की जरूरत है। इससे फेफड़े सुरक्षित और स्वस्थ रहेंगे।