बिहार दिवस पर कई जिलों से पटना बुलाए गए कई बच्चों की तबीयत खराब हो गई है। अभी तक 157 से अधिक बच्चों को सिरदर्द, बुखार, शरीर दर्द, उल्टी आदि की शिकायत हुई है। इन बच्चों को इलाज के लिए गांधी मैदान में ही बने मेडिकल कैंप ले जाया गया है, वहीं कुछ बच्चों को पीएमसीएच रेफर किया गया है। 

यह भी पढ़ें : मणिपुर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, साबुन के डिब्बों में भरी हेरोइन की जब्त

बच्चों का कहना है कि जहां उन्हें ठहराया गया था, वहां पर पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं थी। खाना बहुत खराब था और मच्छर की वजह से तीन रात से वे लोग सोए नहीं हैं। बता दें कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के विभिन्न प्रतियोगिताओं में शामिल होने के लिए राज्य भर से 1215  बच्चे आए हैं।

यह भी पढ़ें : मणिपुर की सभी स्कूलों में अब होगा बड़ा बदलाव, करना होगा इस नियम का सख्ती से पालन

दूसरी ओर, प्रशासनिक सूत्रों का कहना है कि मेले में आए कई बच्चों को ठेले पर फुचका और आइसक्रीम देखा जा रहा था। पीएमसीएच में कुल 11 बच्चे भर्ती कराए गए हैं। इसमें से सीतामढ़ी के 5, औरंगाबाद के 3, पूर्णिया का एक बच्चा शामिल है। कुल 16 बच्चे पीएमसीएच पहुंचे थे, जिनमें से 5 बच्चों को ओपीडी में देखकर छुट्टी दे दी गई।