कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (Karnataka CM Basavaraj Bommai) ने लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि राज्य में लॉकडाउन (lockdown in Karnataka) का कोई प्रस्ताव नहीं है और लोगों से इस संबंध में अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की। पत्रकारों से बात करते हुए, उन्होंने दोहराया कि अब लॉकडाउन लगाने का कोई सवाल ही नहीं है।

हालांकि, वह चाहते हैं कि लोग सार्वजनिक स्थानों पर कोविड (covid19) के मानदंडों का सख्ती से पालन करें। उन्होंने कहा कि संस्थानों को भी उनके द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में मानदंडों का पालन करते हुए जिम्मेदारी से काम करने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कोविड वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron threat) पर कड़ी निगरानी रखे हुए है। इस बीच डेल्टा वैरिएंट के प्रति भी सावधानियां बरती जा रही हैं।

उन्होंने कहा, सरकार दो मोर्चों पर इस मुद्दे से निपट रही है। संदिग्ध मामलों में टेस्ट के नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए एनसीबीएस को भेजे गए थे, ताकि सटीक प्रकार का पता लगाया जा सके। हवाई अड्डों पर अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों की सख्ती से जांच की जा रही है। जो लोग उनके संपर्क में थे, उनका भी पता लगाया जा रहा है और उनका टेस्ट किया जा रहा है। राज्य सरकार ने ऐसे क्लस्टर स्थापित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं, जहां मामलों में तेजी आई है। पहले टेस्ट में पॉजिटिव रिपोर्ट (covid19) आने के 7 दिन बाद क्लस्टर में रहने वालों का दोबारा टेस्ट किया जा रहा है। धारवाड़ के एसडीएम कॉलेज में लगभग 4,000 व्यक्तियों का टेस्ट किया गया है। बोम्मई ने कहा कि इसी तरह के टेस्ट मैसूरु, हसन और बेंगलुरु के अनेकल में क्लस्टर में चल रहे हैं।