देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना को लेकर लगाई गई (Restrictions imposed on Corona)  पाबंदियों पर सख्ती कम होने लगी है. ऐसे में आए मामलों में कमी आने के बाद DDMA ने राजधानी में लगाए हुए कुछ प्रतिबंध हटा दिए हैं. बीते दिन यानी 27 जनवरी को DDMA ने बैठक की जिसमे दिल्ली से वीकेंड कर्फ्यू खत्म कर दिया गया. इसके साथ ही सभी प्राइवेट और सरकारी ऑफिसों को 50 फीसदी की क्षमता से खोलने की इजाजत दे दी गई. हालांकि कोरोना के ग्राफ में कमी को देखते हुए और वीकेंड कर्फ्यू खत्म होने के बाद DMRC ने भी दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है, जिसके तहत आज से अब वीकेंड कर्फ्यू (weekend curfew) वाले दिन यानी शनिवार और रविवार को पहले की तरह मेट्रो चलाई जाएंगी.

दरअसल, दिल्ली मेट्रो ने शुक्रवार को जानकारी दी कि सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार, राजधानी दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म होने के साथ ही यानी शनिवार और रविवार को, मेट्रो सेवाएं बहाल कर दी गई है. फिलहाल मेट्रो में खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत नहीं दी गई है, यानी कि यात्री 100% की क्षमता के साथ बैठ कर यात्रा कर सकते हैं. वहीं, सभी मेट्रो स्टेशन पर कोरोना नियमों का पालन किया जाएगा. इस दौरान मेट्रो में यात्रियों का मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा.

वहीं, मेट्रो सेवाएं सभी लाइनों पर नियमित वीकेंड टाइम टेबल के अनुसार फिर से शुरू कर दी जाएंगी.  हालांकि, बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी के चलते, येलो लाइन पर सेवाओं में मामूली बदलाव किया जाएगा. ऐसे में 29 जनवरी को बीटिंग रिट्रीट समारोह को देखते हुए येलो लाइन यानी हुडा सिटी सेंटर-समयपुर बादली वाली लाइन पर केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशनों पर मेट्रो सेवाएं दोपहर 2 बजे से शाम 06.30 बजे तक उपलब्ध नहीं होंगी. इस दौरान यात्रियों के लिए मेट्रो के इंटरचेंज की सुविधा उपलब्ध होगी. हालांकि बीटिंग रिट्रीट के बाद मेट्रो सामान्य रूप से चलेगी.

गौरतलब हैं कि इसके साथ ही, दिल्ली मेट्रो में 100% बैठने की क्षमता और बिना किसी स्टैंडिंग के साथ, दिशा-निर्देश वही रहेंगे. इस दौरान सभी स्टेशनों पर कोरोना गाइडलाइन के दिशा -निर्देशों का पालन करना अनिवार्य किया जाएगा. वहीं, मेट्रो की तरफ से यात्रियों को यह सलाह भी दी गई है कि वे आने-जाने के लिए अतिरिक्त समय निकालें और दिल्ली मेट्रो के सुरक्षा अधिकारियों के साथ सहयोग करें.