कर्मचारियों को दिवाली के बोनस को लेकर बड़ा ऐलान किया गया है। केंद्र सरकार ने 30 लाख से अधिक कर्मचारियों को दिवाली बोनस देने का ऐलान किया था। इसके जरिए लोगों को कुल 3,737 करोड़ रुपये बोनस मिलेगा।
वित्त मंत्रालय ने गैर-उत्पादकता लिंक्ड बोनस (PLB)की गणना के लिये 7,000 रुपये की सीमा तय की है। बोनस गणना की इस सीमा के साथ कर्मचारी अधिकतम 6,908 रुपये का बोनस पाने का पात्र होगा। वित्त मंत्रालय के अधीन आने वाले व्यय विभाग ने इसकी जानकारी दी है।
30 लाख कर्मचारियों में भारतीय रेल, डाक, रक्षा, ईपीएफओ और ईएसआईसी समेत अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के 16.97 लाख नॉन-गैजेटेड (गैर-राजपत्रित) कर्मचारी शामिल हैं। इन्‍हें भी सरकार बोनस दे रही है।
ऐसे कर्मचारियों को बोनस देने से सरकार पर 2,791 करोड़ रुपये का वित्तीय भार पड़ेगा। वहीं, केंद्र सरकार के 13.70 लाख कर्मचारियों को बोनस दिया जाएगा। इससे सरकार पर 946 करोड़ रुपये का वित्तीय बोझ आएगा।
बता दें कि केंद्र सरकार का ये बोनस सीधे सरकारी कर्मचरियों के बैंक अकाउंट में यानी डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (DBT) के जरिये ट्रांसफर किया जाएगा। सरकार की ओर से ये स्‍पष्‍ट किया जा चुका है कि कर्मचारियों को बोनस जल्‍द दिया जाएगा।
केंद्र सरकार का मानना है कि कर्मचारी त्योहारों के दौरान खर्च के लिये प्रोत्साहित होंगे और इससे कुल मिलाकर अर्थव्यवस्था में मांग बढ़ेगी।