कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है कि उनके Diwali Bonus Gift का ऐलान हो गया है। मोदी सरकार ने दिवाली पर केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा गिफ्ट देते हुए उन्हें बोनस देने का ऐलान कर दिया है। भारत सरकार ने नॉन गजटेड अफसरों और कर्मचारियों के की सैलरी अब बढ़कर आएगी। बोनस की वजह से केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी 7000 से 18,000 रुपये तक बढ़कर आएगी। सरकार ने  Productivity Linked Bonus और Non Productivity Linked Bonus का ऐलान किया है।

केंद्र सरकार ने रेलवे और डाक विभाग को छोड़कर अन्य सभी विभागों के ग्रुप सी कर्मचारियों और ग्रुप बी के सभी नॉन गजटेड कर्मचारियों को 30 दिन के बराबर नॉन-प्रोडक्ट‍िविटी लिंक्ड बोनस (Ad-hoc Bonus) का ऐलान किया है। ये वो कर्मचारी हैं जो प्रोडक्ट‍िविटी लिंक्ड बोनस के तहत नहीं आते।

इसमें केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों और सशस्त्र बलों (Armed Forces) के कर्मचारी भी शामिल हैं। ऐसे सभी कर्मचारी जो 31 मार्च, 2021 तक सेवा में थे और जिन्होंने कारोबारी साल 2020-21 के दौरान कम से कम छह महीने लगातार सरकारी सेवा दी है, वे इस बोनस का फायदा उठा पाएंगे।

इसके साथ ही 3 साल तक कैजुअल काम करने वाले लेबर (जो साल में कम से कम 240 दिन ड्यूटी करते हों) भी इस Non-PLB के हकदार होंगे।

बोनस की रकम की गणना औसत परिलब्ध‍ि (Emoluments)/ गणना की उच्चतम सीमा (जो भी कम हो) के आधार पर की जा रही है। जैसे अगर आपको एक दिन के लिए एडहॉक बोनस की गणना करनी है तो एक वर्ष में औसत Emoluments को 30.4 (महीने में दिनों की औसत संख्या) से डिवाइड किया जाएगा। इसके बाद, इसे दिए गए बोनस के दिनों की संख्या से गुणा किया जाएगा।