मेघालय में नई सरकार के शपथग्रहण से पहले ही बगावत के सुर सुनाई देने लगे हैं। नेशनल पीपल्स पार्टी के नेतृत्व वाले गठबंधन के घटक दल हिल्स स्टेट पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (HSPDP) का कहना है कि क्षेत्रीय पार्टियों के पास सरकार बनाने के लिए जरूरी संख्या है और बीजेपी को गठबंधन से बाहर रखा जाना चाहिए।


एचएसपीडीपी अध्यक्ष आर्देंत बसाईवमोइत ने संवाददाताओं को बताया कि पार्टी की बैठक में फैसला किया गया कि इसके दो विधायक, मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करने वाले कॉनराड संगमा के शपथग्रहण समारोह में हिस्सा नहीं लेंगे। एचएसपीडीपी को चुनाव में दो सीटों पर जीत मिली है, जबकि उसके अध्यक्ष निर्दलीय उम्मीदवार से सिर्फ 76 वोटों से हार गए थे।

बसाईवमोइत ने कहा कि चुनाव के पहले से ही हमारा रुख रहा है कि हम गैर भाजपा और गैर कांग्रेस सरकार बनाएंगे। हम यह संभावना देखते हैं कि एनपीपी नेतृत्व वाला गठबंधन आसानी से 32 विधायक के साथ सरकार बना सकता है। ऐसे में बीजेपी को इस गठबंधन में शामिल करने का कोई औचित्य ही नहीं है।

बता दें कि मेघालय में नेशनल पीपुल्स पार्टी( एनपीपी) के अध्यक्ष कोनराड संगमा ने आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। संगमा ने 60 सदस्यीय विधानसभा में 34 विधायकों के समर्थन से राज्यपाल गंगा प्रसाद के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया था। इस गठबंधन में एनपीपी के 19, यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) के छह, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के चार, हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (एचएसपीडीपी) और बीजेपी के दो-दो विधायक और एक निदर्लीय विधायक शामिल हैं।