कांग्रेस के पूर्व महासचिव और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने आज ‘द कश्मीर फाइल्स’ (the kashmir files) फिल्म के बहाने भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर निशाना साधते हुए कहा कि नफरत से अशांति फैलती है और जो हिंदू मुस्लिम देशों में आजीविका कमा रहे हैं, उनके बारे में कभी सोचा है क्या। 

 

ये भी पढ़ेंः हिजाब पर आए हाईकोर्ट के फैसले से भड़का उठा ये बड़ा मुस्लिम संगठन, कह दी ऐसी बात


सिंह ने अपने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि जब कश्मीरी पंडितों (Kashmiri Pandit) का पलायन हुआ तब कांग्रेस विपक्ष में थी। विश्वनाथ प्रताप सिंह की जनता दल की सरकार को भाजपा का समर्थन था। मुफ्ती मोहम्मद सईद गृह मंत्री थे। जगमोहन राज्यपाल थे। फिर कांग्रेस को क्यों कोसा रहे हैं? इसके बाद उन्होंने स्वयं ही जवाब देते हुए कहा, क्योंकि भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) कांग्रेस से डरते हैं। देश में नफरत फैला कर राजनीतिक रोटियां सेंकना एक मात्र उद्देश्य है। नफरत से हिंसा पनपती है और देश में अशांति फैलती है। जो हिंदू मुस्लिम देशों में रोजी रोटी कमा रहे हैं उनके बारे में आपने कभी सोचा है क्या?

ये भी पढ़ेंः पंजाब में मिली करारी हार के बाद आखिरकार नवजोत सिद्धू को उठाना पड़ा ऐसा बड़ा कदम


वहीं असम के सांसद बदरुद्दीन अजमल (Badruddin Ajmal) ने कहा, केंद्र सरकार, असम सरकार को इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाना चाहिए क्योंकि इससे सांप्रदायिक तनाव होगा। आज के भारत में स्थिति एक जैसी नहीं है। कश्मीर से परे कई घटनाएं हुईं हैं, जिनमें असम में नेल्ली की घटना भी शामिल है। असम के धुबरी से सांसद बदरुद्दीन अजमल ने कहा, मैंने 'The Kashmir Files नहीं देखी है। केंद्र सरकार, असम सरकार को इस पर प्रतिबंध लगाना चाहिए क्योंकि इससे सांप्रदायिक तनाव होगा। आज के भारत में स्थिति एक जैसी नहीं है।