क्लब हाउस चैट के दौरान जम्मू कश्मीर में धारा 370 का जिक्र करके कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह बुरी तरह फंस गए हैं। भाजपा नेता और पार्टी के आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने दिग्विज सिंह के कथित क्लब हाउस चैट का ऑडिया जारी किया है। 

आपको बता दें कि अमित मालवीय ने क्लब हाउस चैट का एक हिस्सा ट्विटर पर शेयर किया और लिखा, 'क्लब हाउस चैट में, राहुल गांधी के शीर्ष सहयोगी दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से कहते हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वे आर्टिकल 370 को निरस्त करने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे। वास्तव में? यही तो पाकिस्तान चाहता है...। 

एक ओर जहां आर्टिकल 370 पर बयान को लेकर दिग्विजय सिंह पर भारतीय जनता पार्टी हमलावर हो गई है वहीं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला इससे गदगद नजर आ रहे हैं।

नेशनल कांफ्रेस के प्रमुख अब्दुल्ला ने कहा कि- मैं दिग्विजय सिंह जी का बहुत आभारी हूं। उन्होंने लोगों की भावनाओं को अन्य पार्टियों की तरह महसूस किया और जिन्होंने इसके बारे में भी बात की है। मैं इसका तहे दिल से स्वागत करता हूं और उम्मीद करता हूं कि सरकार इस पर दोबारा गौर करेगी।

दावा किया जा रहा है कि दिग्विजय सिंह के क्लब हाउस चैट के दौरान पाकिस्तानी पत्रकार भी शामिल थे और पाकिस्तानी पत्रकार के सवाल से जवाब में ही दिग्विजय सिंह ने ऐसा कहा है। सोशल मीडिया पर वायरल कथित क्लब हाउस चैट के ऑडियो में दिग्विजय सिंह कहते हैं, 'यहां (जम्मू-कश्मीर) से जब धारा-370 हटाई गई, तब लोकतंत्रिक मूल्यों का पालन नहीं किया गया। इस दौरान न ही इंसानियत का तकाजा रखा गया और न ही इसमें कश्मीरियत का ख्याल रखा गया। सभी को सलाखों के पीछे बंद कर दिया गया। अगर कांग्रेस सरकार सत्ता में आई, तो हम इस फैसले पर फिर से विचार करेंगे और आर्टिकल 370 बहाल करेंगे।'