कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन जारी है। जिसके चलते सभी चीज़ें बंद है। इसी के दौरान कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में दो व्यक्तियों ने आत्महत्या कर ली है। पता चला है कि लॉकडाउन के चलते शराब न मिलने के कारण परेशान होकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बताया कि दोनों घटनाएं कड़बा तालुका में हुई है। 

तालुका के कुटरुपादि गांव में रबड़ निकालने का काम करने वाले मजदूर टॉमी थॉमस (50) ने अपने किराए के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। केरल के कोट्टायम के स्थानीय लोगों ने कहा कि पिछले कुछ दिन से थॉमस शराब की खोज में इधर उधर भटक रहा था और वह काम पर भी नहीं आया था। बता दें कि उसके शव को एक अस्पताल के मुर्दाघर में रखा गया है।

इसी तरह से एक और घटना उसी तालुका के कोडिम्बाला गांव के निवासी 70 वर्षीय एक व्यक्ति ने एक पेड़ से लटक कर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली है। मृतक की पहचान थॉमस के रूप में की गयी है जो 30 साल पहले अपने परिवार को यहां छोड़कर केरल चला गया था और वहीं काम कर रहा था। सूत्रों ने बताया कि मृतक शराब का आदी था और उसकी मौत का कारण भी शराब ही थी।