आजकल की  भागदौड़ भरी जिंदगी और बिजी लाइफस्टाइल में डायबिटीज (Diabetes) भारत ही नहीं पूरी दुनिया में एक बड़ी समस्या के रूप में उभरी है. हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि मधुमेह जिंदगीभर चलने वाली एक क्रोनिक कंडीशन है. इसके दो प्रकार टाइप 1 और टाइप 2 हैं. अगर इस बीमारी को सही तरीके से मैनेज न किया जाए, तो कई अन्य शारीरिक समस्याओं का कारण बन सकता है. डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए इसके लक्षणों को पहचानना जरूरी है. 

यह भी पढ़े : 30 अप्रैल को होगा सूर्यग्रहण, बन रहा है शनि अमावस्या का दुर्लभ संयोग, इन तीन राशियों के लिए रहेगा भाग्यशाली


डायबिटीज के लक्षणों को कैसे पहचनानें?

1. बार-बार भूख लगना

डायबिटीज के मरीजों को बार-बार भूख लगती है. अगर आपको भी ऐसे परेशानी पेश आर रही है तो देर न करते हुए तुरंत अपना हेल्थ चेकअप कराएं

2. प्‍यास न बुझना

अगर आपका गला बार-बार बहुत सूखता है, पानी पीने के बावजूद प्‍यास नहीं बुझती है. ऐसी स्थिति होने पर आपको अपनी शुगर की जांच करानी चाहिए.

3. बार-बार यूरिन पास करना

 रात के वक्त अगर आप आप चार-पांच बार पेशाब करने के लिए उठ रहे हैं तो अपनी शुगर जरूर चेक करानी चाहिए, क्योंकि ये डायबिटीज का बड़ा लक्षण है

4. वजन कम होना

अगर आपका वजन अचानक तेजी से कम होने लगता है तो ये डायबिटीज का लक्षण हो सकता है, इसलिए वक्त रहते सतर्क होने की जरूरत है

5. थकान होना

अगर आप बिना थके 10 से 12 घंटे काम कर लेते थे, लेकिन अब 8 घंटे काम करने में ही आपको थकावट होने लगती है तो आपको डायबिटीज की जांच करा लेनी चाहिए.

यह भी पढ़े : नई Honda City Hybrid की ऑनलाइन प्री-बुकिंग शुरू, लॉन्च को लेकर नई डिटेल आई सामने


ये बेहद जरूरी हो गया है कि लोगों को पहले तो लक्षणों का इंतजार नहीं करना चाहिए, 30 की उम्र पार करने के बाद समय-समय पर डायबिटीज की जांच कराते रहना चाहिए. यदि आपको किसी भी पल खुद में डायबिटीज के लक्षण दिखाई देते हैं, तो बिना देरी आपको डायबिटीज की जांच करा लेनी चाहिए, क्योंकि समय पर डायबिटीज की बीमारी का पता न चलना और संकेत मिलने के बावजूद उन्हें नजरअंदाज करना खतरनाक साबित हो सकता है.