नैनीताल/पिथौरागढ़। चीन सीमा से सटे उच्च हिमालयी क्षेत्र व्यास घाटी में माउंटेन बाइकिंग रैली को बुधवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर आयोजित रैली के मौके पर धामी ने कहा कि साहसिक खेलों के आयोजन से सीमांत में चहल -पहल रहेगी। इस प्रकार की गतिविधियों से जहां जहाँ पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा वहीं होम स्टे, टैक्सी, होटल, गाइड और ढाबे मालिकों की आय में वृद्धि होगी। 

ये भी पढ़ेंः कश्मीर में नहीं सुधर रहे आतंकी, पुलिसकर्मी की गोली मारकर हत्या, बेटी भी घायल


उन्होंने इस आयोजन के लिए जिला प्रशासन की सराहना करते हुए कहा कि 10500 फुट की ऊंचाई पर माउंटेन बाइकिंग रैली का आयोजन कर जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने सराहनीय कार्य किया है। धामी सीमांत गांव गुंजी पहुंचने वाले प्रथम मुख्यमंत्री हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र की भारत माला परियोजना के तहत सीमावर्ती क्षेत्रों को सड़कों से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने इस कार्य के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केन्द्र सरकार की नीतियों की सराहना की। 

ये भी पढ़ेंः रूस यूक्रेन युद्ध के बीच पुतिन की हत्या की कोशिश! इस देश ने रची साजिश

मुख्यमंत्री धामी ने चीन सीमा पर डटे एसएसबी, आईटीबीपी और सेना के जवानों की हौसला अफक़ाई की। साथ ही एमटीबी साइकिल रैली (टूर द आ कैलाश) को हरी झण्डी दिखाकर ज्योलिकोंग और नाभिढांग के लिए रवाना किया। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कुमाऊँ मण्डल की ओर से कुटी और यांगती नदी में संचालित राफ्टिंग प्रतियोगिता के लिए राफ्टिंग दल को भी रवाना किया। कार्यक्रम में गुंजी ग्राम प्रधान सुरेश गुंज्याल, डीएम डॉ. आशीष चौहान, डीएफओ कोको रोसे, एसडीएम धारचूला नंदन कुमार, एसएसबी के पाटिल राकेश सहित अन्य लोग मौजूद रहे।