कुंभ में कोरोना बहुत ही तेजी फैल गया है। अभी तक कोरोना के 2000 लोगों की कोरोना रिर्पोट सकारात्मक आई है। इसी कारण सरकार ने कुंभ मेले 14 दिन के लिए ही रखा है। दिल्ली सरकार ने आदे जारी किया है कि जो लोग कुंभ मेले से दिल्ली लौटे हैं वो उन लोगों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन किया जाएगा। सरकार ने हरिद्वार कुंभ में शामिल होने वाले दिल्लीवासियों के लिए टेस्ट, ट्रेसिंग और आइसोलेशन को अनिवार्यता से लागू करने के आदेश दिए हैं।


ध्यान दें, सरकार के आदेश के मुताबिक कुंभ से लौटने वाले लोगों को www.delhi.gov.in में अपनी जानकारी अपलोड करनी है। ऐसा न करने पर उन्हें जबरन इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन में भेजा जाएगा। आपको बता दें कि कुंभ मेले के दौरान लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं के जमा होने और इस वजह से कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ने को लेकर देशभर में बहस शुरू हो गई है। देशभर में कई जानी-मानी हस्तियों ने कुंभ जैसे आयोजन को रोक देने की अपील की है।


कुंभ मेले में 31 लाख लोगों ने गंगा स्नान किया। वहीं दूसरे शाही स्नान में 14 लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए। शाही स्नान कार्यक्रम के बाद हरिद्वार समेत पूरे उत्तराखंड में सैकड़ों कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए थे, जिनमें बड़ी संख्या में साधु-संत भी शामिल थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपील की थी कि अब कुंभ को प्रतीकात्मक ही रखा जाए. पीएम मोदी ने जूना अखाड़े के प्रमुख महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद से इस बारे में बात की, जिसके बाद समय से पहले कुंभ की समाप्ति का ऐलान किया है।