आगामी 15 दिसंबर से शुरू हो रही रेलवे की भर्ती परीक्षाओं में अभ्यर्थियों को साधारण मास्क पहनकर जाना होगा।  आरआरबी (रेलवे भर्ती बोर्ड) ने डिजाइनर या मानक के विपरीत मास्क पहनकर परीक्षा देने पर रोक लगाई है।  

अभ्यर्थी मुंह पर रुमाल या गमछा बांधकर भी परीक्षा नहीं दे पाएंगे।  डिजाइनर मास्क, रुमाल या गमछा परीक्षा केंद्र में प्रवेश से पहले उतरवाया जाएगा।  परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों को पहनने के लिए मास्क दिया जाएगा। आरआरबी कोरोना काल में हो रही परीक्षाओं के लिए पर्याप्त मास्क के इंतजाम कर रहा है। 

रेलवे भर्ती बोर्ड दिसंबर के मध्य से मिनिस्ट्रियल और आइसोलेटेड पदों की परीक्षा कराएगा।  इसके बाद 28 दिसंबर से एनटीपीसी (नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटगरी) की परीक्षा शुरू होगी।  एनटीपीसी की परीक्षा मार्च 2021 तक खंडों में कराई जाएगी।  महामारी को ध्यान में रखते हुए आरआरबी ने परीक्षार्थियों के लिए गाइडलाइन तैयार की।  इसी गाइडलाइन में सामान्य मास्क पहनकर परीक्षा देने की शर्त रखी गई है।  

आरआरबी इलाहाबाद के चेयरमैन आरए जमाली ने बताया कि परीक्षा केंद्रों को कोरोना से मुक्त रखने के लिए पहले सेनिटाइज कराया जाएगा।  परीक्षा केंद्रों पर एक से दूसरे अभ्यर्थी के बीच छह फीट की दूरी होगी।  परीक्षा केंद्रों पर बोर्ड मास्क का इंतजाम भी करेगा।  मानक के अनुरूप मास्क नहीं मिलने पर परीक्षा केंद्र से दूसरा मास्क दिया जाएगा। 

आरआरबी की प्रस्तावित परीक्षाएं 

- मिनिस्ट्रियल एंड आइसोलेटेड पद की परीक्षा 15 दिसंबर से 

- उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे के इस श्रेणी में 126 पद हैं. 

- 15 हजार 541 अभ्यर्थी उत्तर प्रदेष उत्तराखंड और मध्यप्रदेश के 39 केंद्रों पर परीक्षा देंगे. 

एनटीपीसी की परीक्षा 28 दिसंबर से संभावित 

- आरआरबी इलाहाबाद के अधीन 4099 पदों के लिए परीक्षा होगी. 

- उत्तर प्रदेश व आसपास के राज्यों में आठ लाख से अधिक अभ्यर्थी परीक्षा देंगे. 

- परीक्षा केंद्र व तारीख 25 दिसंबर तक घोषित किए जाएंगे. 

- ग्रुप डी की परीक्षा की तारीख अभी तय नहीं 

- ग्रुप डी में 4730 पदों के लिए सात लाख 64 हजार अभ्यर्थी परीक्षा देंगे.