बकलियाघाट । अखिल असम आदिवासी छात्रसंघ (आसा ) को बकलियाघाट  आंचलिक समिति, राजापथार के अध्यक्ष हरि प्रशाद  कुंवर और सचिव पवन सतनामी ने बताया है कि राजापथार अंचल के शिक्षक कुर्श  नायक और पवन सतनामी को सेना  द्वारा मारपीट और मानसिक  प्रताडित करने के लिए बकलियाधाट थाने में एफआईआर दर्ज करवाई गई है उन्होंने सेना को गुमराह करने वाले तीनों को अतिशीघ्र कानून के तहत सजा देने की मांग की है ।

इसमें गांवके ही निवर्तमान सरकारी गांवबूढ़ा  व गांव सुरक्षा वाहिनी के अध्यक्ष गणेश कुर्मी, सचिव नारायण साहु, असम राइफल्स के जवान तथा गणेश कुर्मी के पुत्र  भरतलाल कुर्मी, असम होमगार्ड के जवान वरुण नायक, गजेन कुर्मी, लखीराम कुर्मी पुत्र सरस्वती नायक के नामोल्लेख हैं। आसा के पदाधिकारियों का मानना है कि ये सभी तीनों ने सेना को गलत जानकारी देकर अपनी आपसी दुश्मनी का बदला लिया है । 

आंचलिक समिति ने इस संदर्भ में जिले के डेपुटी कमिश्नर व सुपरिटेंडेंट ऑफ़  पुलिस को भी ज्ञापन दिया है जिससे कि दोषियों को सजा और कुर्श  नायक व पवन सतनामी को इंसाफ मिल सके । उन्होंने भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावृति रोकने के लिए सेना से  अनुरोध किया है।