उत्तर-पूर्वी दिल्ली में तीन दिनों तक हुई हिंसा के बाद राजधानी के कई जिलों में हिंसा की अफवाह उड़ने से लोगों के बीच अफरा-तफरी मच गई जिसके बाद दिल्ली पुलिस को स्पष्ट करना पड़ा कि स्थिति शांतिपूर्ण है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकरी ने कहा कि असामाजिक तत्वों ने दंगे की अफवाह फैलाकर लोगों के बीच अफरा-तफरी मचाने का काम किया है। किसी भी इलाके में कोई घटना नहीं हुई है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी मनदीप सिंह रंधावा ने कहा कि पश्चिम दिल्ली, दक्षिण पूर्वी दिल्ली, मदनपुर खादर, राजौरी गार्डन, हरि नगर, और ख्याला से कुछ कॉल मिले। इन स्थानों पर स्थिति सामान्य है। पुलिस सोशल मीडिया की निगरानी कर रही है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। पूरे शहर में स्थिति सामान्य है। वरिष्ठ अधिकारी स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की लोगों से अपील की है। 

इस बीच हिंसा की अफवाहों को देखते हुए सुरक्षा कारणों से डीएमआरसी ने कुछ मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिए। हालांकि कुछ देर बाद सभी स्टेशनों को फिर से खोल दिया गया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने कहा कि हिंसा की खबर अफवाह है। पुलिस ने लोगों से शांति बनाए रखने और किसी भी अफवाह में न आने की अपील की है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने ट्वीट किया, ऐसा देखने में आया है कि कुछ अराजक तत्व ऐसी अफवाहे फैला रहे हैं जिससे शांति व्यवस्था में बाधा आए। लोगों को आगाह किया जाता है कि ना तो इन अफवाहों को फैलाएं और ना इन पर भरोसा न करें। पूरी दिल्ली में कानून व्यवस्था पूर्णत: नियंत्रण में है और स्थिति शांत है।’’ 

पश्चिमी दिल्ली के डीसीपी दीपक पुरोहित ने भी एक ट्वीट करते हुए लिखा, ‘‘अफवाह सबसे बड़ा दुश्मन है। एक अफवाह फैल रही है कि पश्चिमी दिल्ली के ख्याला-रघुबीर नगर में तनाव फैल गया है। लेकिन यह सच नहीं है। सभी लोगों से अनुरोध है कि वो शांत रहें, माहौल पूरी तरह शांत है।’’ डीएमआरसी ने ट्वीट कर जानकारी दी कि तिलक नगर, नांगलोई, सुरजमल स्टेडियम, बदरपुर, तुगलकाबाद, उत्तम नगर पश्चिम और नवादा मेट्रो स्टेशन के प्रवेश ओर निकास द्वार बंद कर दिये गये हैं। इसके 15 मिनट बाद ही डीएमआरसी ने एक अन्य ट्वीट किया, ‘‘सभी मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार खोल दिये गये हैं। सामान्य सेवाएं बहाल कर दी गई हैं।’’ दक्षिण पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर में हिंसा की अफवाह के बाद पूरे जामिया नगर में अफरा-तफरी मच गई। हर गली से लोग सडक़ों पर निकलने लगे और कुछ लोग शाहीन बाग प्रदर्शन स्थल की ओर चल दिये। 

इसके बाद पुलिस और मस्जिदों से एलान किया गया कि कहीं भी किसी प्रकार की कोई घटना नहीं हुई है इसलिए सभी लोग संयम बनाये रखें। अफवाह फैलते ही तेजी से दुकानें बंद होने लगी और लोग अलग अलग चैराहों पर इकठ्ठा होने लगे थे। हालांकि शाहीन बाग इलाके में रविवार सुबह से ही एहतियात के तौर पर सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की गई थी और इलाके में धारा 144 भी लगा दी गई थी। अफवाहों को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने कई जिलों में फ्लैग मार्च किया। कुछ इलाकों में पुलिस के साथ साथ दोनों समुदाय के लोग भी फ्लैग मार्च में शामिल हुए और अपनी एकता और दिल्ली पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाकर आपसी सौहार्द का परिचय दिया।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360