दिल्ली में रह रहे अभिभावक अगर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल से निकालकर सरकारी स्कूल में भेजना चाहते हैं तो उकी राह आसान हो गई है।  दिल्ली सरकार की तरफ से कहा गया है कि प्राइवेट स्कूलों से सरकारी स्कूल में आने पर बच्चे को दाखिले के समय पिछले स्कूल के ट्रांस्फर सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं होगी।  दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि सरकारी स्कूल में बच्चे को बिना ट्रांस्फर सर्टिफिकेट के दाखिला दे दिया जाएगा। 

मनीष सिसोदिया ने एक ट्वीट संदेश में कहा, अगर दिल्ली में किसी प्राइवेट स्कूल में पढ़ रहा बच्चा सरकारी स्कूल में आना चाहता है और उसका प्राइवेट स्कूल फीस या किसी अन्य कारण से उसको TC नहीं दे रहा है तो अब सरकारी स्कूल में उसका एडमिशन बिना TC के भी होगा. प्राइवेट स्कूल से बच्चे की TC शिक्षा विभाग ले लेगा.

गौरतलब है कि कोरोना काल में कई अभिभावक आर्थिक तंगी की वजह से प्राइवेट स्कूलों में पड़ रहे अपने बच्चों की भारी भरकम फीस चुकाने में असमर्थ महसूस कर रहे हैं, जबकि स्कूलों की तरफ से फीस वसूली का दबाव बनाया जा रहा है. इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों के बच्चों को सरकारी स्कूलों में बिना शर्त दाखिले का ऑफर दिया है.