दिल्ली विधानसभा में आठ फरवरी को हुए मतदान की सोमवार को हो रही मतगणना के शुरुआती रुझान में कांग्रेस अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर पीछे चल रही है। ओखला सीट पर कांग्रेस के परवेज हाशमी सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार से पीछे चल रहे हैं। 

वहीं गांधीनगर सीट से अरविंदर सिंह लवली और सीलमपुर सीट पर चौधरी मतीन अहमद पीछे चल रहे हैं। हालांकि हारून यूसुफ बल्लीमारन सीट पर बढ़त बनाए हुए हैं। कांग्रेस उम्मीदवार आप से बहुत पीछे चल रहे हैं। नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विरोधी प्रदर्शन के केंद्र ओखला में मतदाताओं की पहली पसंद आप है। शुरुआती रुझानों में आप 49 सीटों पर, भाजपा 12 सीटों पर और कांग्रेस एक सीट पर आगे चल रही थी।

गौरतलब है कि साल 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 54.3 प्रतिशत वोट मिले थे। BJP 32.3 प्रतिशत वोट पाकर दूसरे स्थान पर रही थी और कांग्रेस को सिर्फ 9.7 प्रतिशत वोट मिल पाए थे।इससे सिर्फ दो साल पहले, साल 2013 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (AAP) ने 28 सीटें जीतकर आठ सीटें जीतने वाली कांग्रेस के 'बिना शर्त समर्थन' से सरकार बनाई थी, लेकिन वह ज़्यादा समय तक नहीं चल पाई थी। वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में BJP को 32 सीटों पर जीत मिली थी और वह बहुमत के आंकड़े से चार सीट कम रह गई थी।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360