दिल्ली विधानसभा चुनावों के परिणामों में BJP ने बेहतर प्रदर्शन किया है। भले ही सरकार आम आदमी पार्टी की बन रही है, लेकिन कांग्रेस पूरी तरह से साफ हो गई है। हालांकि BJP की सीटें कम आई है लेकिन वोट प्रतिशत में लंबी छलांग लगाई है। 

आपको बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 32 परसेंट वोट मिले थे। कांग्रेस ने लगभग 10 प्रतिशत वोट हासिल किए और अरविंद केजरीवाल की आप को 54 परसेंट पॉप्यूलर वोट मिले थे। पहले की तुलना में ताजा रुझानों और नतीजों के मुताबिक बीजेपी को 2020 में 43 परसेंट से ज्यादा वोट मिले हैं।

हालांकि संख्या राउंड की काउंटिंग के बाद की है लेकिन रुझान साफ हो चुके हैं। बढ़े हुए वोट प्रतिशत के दम पर भाजपा लगभग 20 से ज्यादा सीटों पर आगे चल रही है। 2015 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने महज 3 सीटें ही जीती थीं। लेकिन कांग्रेस की लुटिया पूरी तरह से डूबती हुई दिखाई दे रही है। इस पार्टी को लगभग 4.5 परसेंट वोट मिले हैं। इस वजह से सकांग्रेस को 5 फीसदी वोट शेयर का नुकसान हुआ है।

हालांकि असली झटका अरविंद केजरीवाल को लगा है। आम आदमी पार्टी को 2015 में मिले 54 परसेंट वोट मिले थे जिनकी तुलना में इस बार 49 परसेंट ही वोट मिलने का रुझान है। इसके बावजूद अरविंद केजरीवाल 3 बार दिल्ली का मुख्यमंत्री बनते दिख रहे हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360