आम आदमी पार्टी (Aap) के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को राम जन्मभूमि अयोध्या (Ram Janmabhoomi Ayodhya) में रामलला और हनुमानगढ़ी में पूजा-अर्चना की और घोषणा की कि अब दिल्ली के सभी बुजुर्ग निशुल्क अयोध्या आकर राम जन्मभूमि के दर्शन कर पाएंगे। 

केजरीवाल ने कहा कि अब दिल्ली के सभी बुजुर्ग निशुल्क अयोध्या आकर राम जन्मभूमि के दर्शन कर पाएंगे। हमारी सरकार की पहले से ही कई तीर्थ स्थलों के दर्शन कराने के लिए योजना चला रही है। कल सुबह कैबिनेट की बैठक बुलाई है, जिसमें राम जन्मभूमि अयोध्या को भी तीर्थ स्थलों की सूची में शामिल करने का निर्णय लेंगे। 

उन्होंने यह भी कहा कि अगर उत्तर प्रदेश (UP) में आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार बनती है, तो उत्तर प्रदेश के निवासियों को भी मुफ्त में अयोध्या की तीर्थ यात्रा करवाएंगे। केजरीवाल ने कहा कि रामजन्मभूमि में श्रीरामचंद्र जी के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। कल रात हम लोगों ने सरयू मां की आरती की थी। आज सुबह हनुमानगढ़ी जाकर हनुमान जी के दर्शन किए। इसके बाद प्रभु श्रीराम जी के दर्शन किए। मैं भगवान श्रीरामचंद्र जी से अपने देश के लिए प्रार्थना करता हूं कि सभी देशवासी हमेशा खुश रहें, सबका मंगल हो। 

कोरोना से अपना देश पीडि़त है। यह बीमारी जल्द खत्म हो, हमारे देश के अंदर सब लोग सुख-शांति से जीयें और हमारे देश का खूब विकास हो। आज मुझे भगवान श्रीराम के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। मैं चाहता हूं कि यह सौभाग्य हर भारतवासी को प्राप्त हो। श्री केजरीवाल ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण के लिए हमने भी दान दिया है। लेकिन दान ऐसा होना चाहिए कि दायां हाथ दे और बाएं हाथ को पता न चले। यह मेरे और भगवान के बीच की बात है।

उन्होंने कहा कि प्रभु श्रीराम से दो चीजें मांगी है। एक- अपने देश के लोगों के लिए सुख-शांति व देश का विकास। दूसरा यह कि प्रभु श्रीराम मुझे क्षमता दें कि मैं ज्यादा से ज्यादा लोगों को यहां पर लाकर उनका दर्शन करा सकूं। उन्होंने कहा कि हम दिल्लीवासियों को मुफ्त में तीर्थ यात्रा करवाते हैं। उसमें वैष्णो देवी, शिरडी महाराज, रामेश्वरम, द्वारका, पूरी, हरिद्वार, मथुरा और वृंदावन समेत कई सारे तीर्थ स्थल शामिल हैं। 

दिल्ली में कल सुबह 11 बजे हमने कैबिनेट की विशेष बैठक रखी है। उसमें हम अयोध्या को भी तीर्थ यात्रा की सूची में भी शामिल करेंगे और अब दिल्ली के लोग राम जन्मभूमि अयोध्या आकर रामलला के भी दर्शन कर पाएंगे। इस योजना के तहत हम तीर्थ यात्रियों का आना-जाना, रहना और खाना सब खर्च वहन करते हैं। तीर्थ यात्रियों को एसी ट्रेन से भेजते है और एसी होटल में ठहराते हैं। इसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार वहन करती है और तीर्थ यात्रियों को अपने स्तर पर कुछ भी खर्च नहीं करने पड़ते हैं। 

उल्लेखनीय है कि श्री केजरीवाल कल ही रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या पहुंच गए थे। कल शाम वे मां सरयू नदी की आरती में शामिल हुए और विधि- विधान के साथ मां सरयू नदी की आरती की। धर्मदास महाराज की अध्यक्षता में पूरी आरती संपन्न हुई। 'आप' संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने मां सरयू नदी से दिल्ली समेत देश भर के लोगों की सुख-समृद्धि के लिए प्रार्थना की थी।