दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता से मोदी सरकार घबरा गई है इसलिए उनकी पार्टी के कई बड़े नेताओं को वह फंसाने की योजना बना रही है। सिसोदिया ने शनिवार को कहा कि आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता और ग्राफ से भाजपा के अंदर डर और बेचैनी बढ़ती जा रही है। इस कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीबीआई, ई.डी. और दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना को एक टास्क सौंपते हुए 15 लोगों की एक लिस्ट सौंपी है और कहा है कि इन लोगों को झूठे मुकदमे में फंसा कर, फर्जी रेड डाल कर बर्बाद कर दिया जाए। 

इस लिस्ट में आम आदमी पार्टी के कई बड़े नेताओं के नाम शामिल है। उन्होंने कहा कि मोदी पहले भी इन विभागों का दुरुप्रयोग पर आप के नेताओं को फंसाने का प्रयास कर चुके हैं लेकिन हर बार नतीजा जीरो रहा और आगे भी इन सबसे कुछ भी हासिल नहीं होना है। प्रधानमंत्री जो करवाना चाहते हैं करवा ले लेकिन आम आदमी पार्टी अपनी सच्चाई और ईमानदारी की राजनीति पर अडिग रहेगी। भाजपा विपक्षी पार्टियों की सरकार को गिराने, परेशान करने और जोड़ तोड़ से अपनी सरकार बनाने के लिए ईडी, सीबीआई और दिल्ली पुलिस जैसे अपने ब्रह्मास्त्र का इस्तेमाल करती रही है। 

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आने वाले चुनावों के मद्देनजर आम आदमी पार्टी के नेताओं को फर्जी तरीके से फंसाने के लिए अपने ब्रह्मास्त्र का इस्तेमाल कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना की मदद ले रहे है। सिसोदिया ने कहा कि मोदी हमें फर्जी आरोपों में फंसाने के लिए चाहे सीबीआई, ई.डी. या दिल्ली पुलिस भेजे हम सबका स्वागत करते है क्योंकि हम सच्चाई और ईमानदारी की राजनीति करते है। सिसोदिया ने कहा कि मोदी ने पहले भी आम आदमी पार्टी के नेताओं के घर रेड करवाई है। सीबीआई ने मेरे घर दो बार रेड डाला लेकिन उसका नतीजा क्या रहा ये जनता को नहीं बताया। 

इसी प्रकार स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन के खिलाफ 12 फर्जी केस किए गए , आप के 21 विधायकों को झूठे आरोपों में फंसाया गया और जेल भेजा गया लेकिन सभी को बाद में अदालत ने आरोप मुक्त कर दिया। देश के इतिहास में पहली बार हुआ कि जब रेड के बहाने किसी वर्तमान मुख्यमंत्री के घर में और बेडरूम में पुलिस घुस आई लेकिन इसका भी क्या नतीजा निकला? दिल्ली सरकार को परेशान करने के लिए केंद्र सरकार ने 450 फाइलों की जांच करवाई लेकिन उस जांच में भी दिल्ली सरकार के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला। 

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ईमानदारी की राजनीति के दम पर शिक्षा, स्वास्थ्य और लोकहित के काम कर रही है। देश को क्वालिटी एजुकेशन मॉडल दे रही है। हमें विश्वास है कि इन फर्जी केसों और रेड से कुछ नहीं होने वाला, पर एक बड़ा सवाल ये है कि मोदी जी ने सरकारी विभागों का दुरूपयोग करके पहले जो रेड करवाई उनका क्या नतीजा निकला वो जनता के सामने बताएं। सिसोदिया ने कहा कि दरअसल भाजपा आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता से भयभीत और परेशान हैं। पंजाब, गोवा, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी का ग्राफ तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसे देख कर भाजपा हिल गई है। गुजरात में भाजपा के गढ़ सूरत में आप ने भाजपा को चुनौती दे दी है। पूरे राज्य में लोगों के बीच पार्टी की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। इससे भाजपा डरने लगी है और सरकारी तंत्र का दुरूपयोग कर आम आदमी पार्टी को परेशान करना चाहती है।