दिल्ली में कोरोना की दर कम देखी जा रही है। कोरोना के मामले दिल्ली में कम हो गए है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य में कोरोना से मृत लोगों को लेकर बड़ा ऐलान भी किया है। दिल्ली में कोरोना से कई हजारों मौते हुई है। कई परिवार के परिवार ही खत्म हो गए हैं। इन परिवारों के बचे हुए लोगों के लिए केजरीवाल ने एक बड़ी घोषणा की है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में संक्रमण दर घटकर 12 फीसदी पर पहुंच गई है।

सीएम ने बताया कि पिछले 10 दिनों में दिल्ली में 10 हजार बेड खाली हो गए है लेकिन आइसीयू के बेड भरे हुए हैं। जिसका मतलब है कि राज्य में अभी भी गंभीर स्थिति वाले मरीजों की संख्या बनी हुई है। दिल्ली में जो कोरोना के मामले कम हो रहे है उसमें लॉकडाउन की भूमिका रही है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर हम ढीले पड़ गए तो कोरोना फिर से आ सकता है। इसलिए कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते रहना चाहिए। 


ढिलाई बिल्कुल नहीं करना है। आने वाले समय को देखते हुए दिल्ली सरकार अपनी पूरी तैयारी कर रखी है। क्योंकि वैज्ञानिकों द्वारा बताया जा रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर भी आने वाली है। इसलिए अभी से ही सतर्क रहना जरूरी है। बता दें कि सीएम केजरीवाल ने ऐलान किया है कि कोरोना की वजह से जो बच्चे अनाथ हो गए हैं या ऐसे सभी परिवार जिन्होंने कमाई वाले सदस्यों को खोया है। तो अनाथ बच्चों की पढ़ाई पूरी कराने की जिम्मेदारी सरकार की है।