रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर दुर्घटना (chopper crash) पर लोकसभा और राज्यसभा को संबोधित किया, जिसमें CDS बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य की मौत हो गई।
राजनाथ सिंह के बयान के बाद, लोकसभा ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बिपिन रावत, (Bipin Rawat) उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य वायुसेना कर्मियों की मौत पर 2 मिनट का मौन रखा।


रक्षा मंत्री सिंह (Rajnath Singh) ने कहा कि "गंभीर दुख और भारी मन के साथ, मैं 8 दिसंबर 2021 की दोपहर में भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, जनरल बिपिन रावत के साथ सैन्य हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने की दुर्भाग्यपूर्ण खबर देने के लिए खड़ा हूं "।
बताया गया है कि सीडीएस बिपिन रावत (Bipin Rawat) और उनकी पत्नी का अंतिम संस्कार शुक्रवार को होगा। खबरों के मुताबिक, दुर्घटना में जीवित बचे एकमात्र ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Captain Varun Singh), डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज के डायरेक्टरिंग स्टाफ़ की हालत गंभीर है और वर्तमान में उनका वेलिंग्टन के सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है।

हेलिकॉप्टर में 14 लोग सवार थे और उनमें से 13 की मौत नीलगिरी के सुलूर से उड़ान भरने के दौरान हुई, जब यह वेलिंगटन बेस जा रहा था।