भारत की धमक अब समुंदर में और भी बढ़ेगी। रक्षा मंत्रालय (Defence ministry) की ओर से अमरीका सरकार (US ) के साथ नौसेना के लिए रक्षा उपकरणों (Defense Equipment for the Navy) की खरीद के लिए 423 करोड़ रुपए के एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत नौसेना (indian Navy) के लिए एमके 54 तारपीडो (US torpedoes) एवं अन्य उपकरणों की खरीद की जाएगी। 

रक्षा मंत्रालय (Defence ministry) ने बयान में कहा कि इन उपकरणों का इस्तेमाल समुद्री निगरानी में लगे विमानों, पी-8 आई विमानों तथा पनडुब्बियों में किया जाएगा। गौरतलब है कि भारतीय नौसेना (indian Navy) के बेड़े में कुल 11 पी-8आई विमान हैं जिनका उत्पादन अमरीकी कंपनी बोइंग ने किया है। पी-8आई विमान (P-8I aircraft) को इसकी पनडुब्बी रोधी युद्धक क्षमताओं के साथ ही आधुनिक समुद्री टोही क्षमताओं के लिए भी जाना जाता है। 

रक्षा मंत्रालय (Defence ministry) की ओर से ट्वीट किया गया है कि रक्षा मंत्रालय ने भारतीय नौसेना के लिए 423 करोड़ रुपए की लागत पर एमके 54 तारपीडो और एक्सपेंडेबल की खरीद के लिए विदेश सैन्य बिक्री (एफएमएस) के तहत अमरीका की सरकार के साथ करार पर हस्ताक्षर किए हैं।