मेघालय में जातीय हिंसा में मरने वालों की संख्या तीन हो गई है। ताजा मामले में रविवार को एक 37 वर्षीय व्यक्ति की हत्या कर दी गई। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी।


अधिकारियों ने कहा कि प्रशासन ने राजधानी शहर शिलांग और इसके बाहरी इलाकों में पुन: कफ्र्यू लागू कर दिया है।


पुलिस ने कहा कि ताजा मामले में मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स जिले में रविवार तड़के अज्ञात बदमाशों ने एक 37 वर्षीय व्यक्ति पर हमला कर दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई। वहीं शिलांग और अन्य स्थानों से भी हिंसा की नई सूचना मिल रही है।


मेघालय के 11 में से छह जिलों में इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। इसमें पूर्वी जैंतिया हिल्स, पश्चिमी जैंतिया हिल्स, पूर्वी खासी हिल्स, री-भोई, पश्चिमी खासी हिल्स और दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स शामिल हैं।


पुलिस के अनुसार, तीन अज्ञात बदमाशों द्वारा किए गए हमले में एक उपहास उद्दीन नाम का व्यक्ति शहला पुलिस थाने के अंतर्गत आने वाले अपने गांव स्थित आवास में गंभीर रूप से घायल हुआ था। उपचार के लिए उसे खामती प्राथमिक स्वास्थ केंद्र ले जाया गया था लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


शिलांग के कई इलाकों में हिंसा की छिटपुट घटनाओं के बाद पूर्वी खासी हिल्स जिला प्रशासन ने रविवार सुबह 8 बजे पुन: कफ्र्यू लगा दिया। लुमडेंगजीरी पुलिस स्टेशन, सरदार पुलिस स्टेशन और शिलांग शहर के कैंटोनमेंट बीट हाउस के पूरे इलाके में कफ्र्यू लागू है।