12 कुमाऊं में लांस नायक कफड़ा नौगांव निवासी नरेंद्र सिंह अधिकारी का ड्यूटी के दौरान पैर फिसलने से आकस्मिक निधन हो गया। 

वर्तमान में वह अरुणाचल प्रदेश के तुआन जिला लोअर गुंफा में तैनात थे। घटना 25 जुलाई की है। शुक्रवार सुबह उनका पार्थिव शरीर यहां पैतृक गांव लाया गया। सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया।  

 नरेंद्र सिंह अधिकारी यहां कफड़ा नौगांव निवासी खीम सिंह अधिकारी और सामाजिक कार्यकर्ता धना देवी के पुत्र हैं। वर्तमान में वह 12 कुमाऊं में लांस नायक पद पर अरुणाचल प्रदेश में तैनात थे।

शुक्रवार सुबह उनका पार्थिव शरीर यहां पहुंचा तो पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। वह अपने पीछे माता पिता, पत्नी रमा अधिकारी सहित दो छोटी पुत्रियां रिया और रीता को छोड़ गए हैं।

परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। सैन्य टुकड़ी ने मातमी धुन बजाकर उन्हें अंतिम सलामी दी। अंत्येष्टि में नायब तहसीलदार सतीश बर्थवाल, बीडीसी सदस्य राजेंद्र रौतेला, बचे सिंह बिष्ट, बहादुर सिंह, प्रकाश राम, कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष कैलाश भट्ट, शंकर कैड़ा, प्रकाश अधिकारी, कफड़ा व्यापार मंडल के पीतांबर भट्ट, लाल सिंह, मनोहर सिंह आदि थे।