धारा 370, 35-ए हटने के बाद भी कश्मीर में पहली बार भाजपा को जबरदस्त जीत मिली है। एक जमाना था जब कश्‍मीर घाटी में सार्वजनिक स्‍थलों पर बीजेपी का नाम तक नहीं लिया जाता था आज वहां वहां कमल खिला है। बीजेपी ने DDC चुनाव में नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी जैसे क्षेत्रीय दिग्गजों को पछाड़ते हुए घाटी में पहली बार जीत दर्ज की है। भाजपा के ऐजाज हुसैन ने श्रीनगर में खोंमोह- II सीट पर और ऐजाज अहमद खान ने बांदीपोरा जिले में तुलैल सीट पर जीच दर्ज की है।

ऐजाज हुसैन ने जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों और पार्टी कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत को देते हुए कहा कि डीडीसी चुनाव में बीजेपी एक तरफ बाकी अन्य सभी दल एक तरफ थे। उन्होंने कहा, लोगों ने प्रधानमंत्री और उनकी नीतियों में विश्वास दिखाया है। ये चुनाव नतीजे अन्य दलों के लिए यह संदेश है कि कश्मीर में राष्ट्रवादी काफी संख्या में हैं।

हुसैन ने कहा कि बीजेपी ने घाटी में गुपकार गठबंधन के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ी। गुपकार गठबंधन वाले सभी इसलिए एक सात आए क्योंकि वे चुनाव परिणामों के बारे में सोच कर डर रहे थे। इनके विरोध के बावजूद बीजेपी घाटी से जीती। अब, उन्हें आत्मचिंतन करना चाहिए. लोग विकास चाहते हैं और यह विकास के लिए वोट है। बीजेपी ने गठबंधन पर 'सांप्रदायिक प्रचार' करने का आरोप लगाया है।

जम्मू-कश्मीर जिला विकास परिषद चुनाव के नतीजे आज घोषित होने हैं। 280 सीटों पर आठ चरण में मतदान हुआ। चुनाव में 2178 उम्मीदवारों ने किस्मत आजमाई। खास बात यह है कि धारा 370, 35-ए हटने के बाद ये पहला चुनाव है। इस बार चुनाव बीजेपी के लिए काफी अहम है। बीजेपी ने चुनाव में पूरी दम लगाई, जिसका असर दिख रहा है। बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। 280 सीटों में से 231 पर रुझान आ चुके हैं। जिनमें से 54 सीटों पर बीजेपी आगे चल रही है वहीं 5 सीटें जीत चुकी है। इसके अलावा गुपकार गठबंधन 95 सीटों पर आगे चल रहा है और 25 सीटों पर जीत दर्ज कर चुका है। 8 सीटें जीतने के साथ ही 56 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी आग चल रहे हैं। कांग्रेस 19 सीटों पर आगे चल रही है और 4 सीटें जीत चुकी है।