शिवसागर शहर में विगत एक जुलाई को अपने ही पुत्र और बहू दावा्रा मानसिक और आर्थिक रूप से प्रताड़ित वृदध् दंपति रजनी खारघरिया और रूबी खारघारिया  के दवा्रा आत्महत्या कर लेने की घटना के 72 दिनों बाद आज इस मामले के मुख्य आभियुक्त और वृदध् दंपती की बहु गीताश्री खारघरिया दवा्रा शिवसागर के अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश की अदालत में आत्मसमर्पण करके जमानत की  याचना की।

दूसरी ओर पुलिस ने गीताश्री को सात दिनों की रिमांड पर लेने की अपील की । अदालत ने गीताश्री को 2 दिनों की रिमांड पर पुलिस को सौप दिया।

उल्लेखनीय है कि वृदधी् खारघरिया दंपती दवा्रा आत्महत्या करने के बाद छोडे़ गए सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने खारघरिया दंपति के पुत्र देवाशीश खारघरिया और गीताश्री खारघरिया को इस मामले में अभियुक्त बनाकर जांच शूरू की गई थी।

परंतु घटना के बाद से ही देवाशीश और गीताश्री दोनों भुमिगत हो गए थे और घटना के 18 दिन बाद खारघरिया दंपति के पुत्र देवाशीश को गुवाहाटी से गिरफ्तार किया गया था,परन्तु बहु गीताश्री फरार थी ।