वर्तमान समय में कई बीमारियां मानवों पर हमला कर रही है। अभी जो सबसे बड़ी बीमारी है वो है कोविड-19 या कोरोना। यह इतनी घातक बीमारी है कि इसके ने सारी दुनिया में त्राही त्राही मचा दी है। दो साल हो गए हैं लेकिन कोरोना खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इसी तरह से हम वाकिफ है की ये सब बीमारीयां हमारे आस पास के वातावरण में मौजूद कई खतरनाक बैक्टिरियों से फैल रही है।


कई बीमारीयों में से एक बीमारी है एलर्जी। एलर्जी कई तरह की होती है जैसे पराग से, फसलों से, खाने से कई प्रकार की है जिससे हर इंसान को अलग अलग तरीकों से होती है। इन्हीं में मौजूद है धूल और कॉकरोच। बता दें कि 60 फीसदी से अधिक एलर्जी का कारण कॉकरोच है| वैज्ञानीकों ने 63,000 से अधिक मरीजों में एलर्जी की जांच के लिए ब्लड आईजीई लेवल का परीक्षण किया था।

इस जांच में हैरान कर देने वातले परिणाम सामने आये की एलर्जी के 60 फीसदी से अधिक मामलों का कारण कॉकरोच है। बता दें कि सही सफाई ना रखने के कारण कॉकरोच जन्म लेते है और वो बीमारीयां फैलाते है। इनसे होने वाली एलर्जी में हमारे शरीर में हिस्टामाइन जैसे रसायन भी बनने लगते हैं जिससे दमा हो जाता है और सांस लेने में भी दिक्कत आती है। साथ ही एलर्जी से त्वचा में कई बदलाव आते है खुजली और लाल चकते भी हो सकते है।