गारों हिल्स में तेज हवाएं चिंता का कारण बनी रही। विभिन्न इलाकों में पेड़ गिरने की सूचना है। शनिवार की शाम अंतिम रिपोर्ट आने तक जान-माल की नुकसान की कोई खबर नहीं थी। हालांकि शुक्रवार सुबह से ही इस क्षेत्र में चक्रवाती तूफान के कारण कई जगहों पर तेज हवाएं चल रही थीं। शनिवार सुबह के समय कई स्थानों पर पेड़ उखाड़ गए। आप को बता दे की गारो हिल्स में पांच जिले हैं।



जिला अधिकारियों ने बताय कि तेज हवा मुख्य चिंता का विषय रही है, क्योंकि कुछ क्षेत्रों में उखड़े पेड़ों के कारण मार्ग अवरूद्ध हो गया। इसे बहाल करने में समय लगा। दक्षिण पश्चिम गारों हिल्स के जिला उपायुक्त राम कुमार एस ने बताया कि जिले में किसी भी तरह की घटना को टालने के लिए आपदा प्रबंधन दस्ता सतर्क है। जिला मुख्यालय आमपाति-तुरा मार्ग पर पेड़ गिर गए थे, जिसे हटा लिया गया है।



तुरा गारोबादा रोड पर भी पेड़ गिर गया था। वहीं तुरा के आसपास कई इलाकों में मिट्टी धंसने की खबर है। दक्षिण गारो हिल्स जिला, बांग्लादेश सीमा से सटा है, आपदा प्रबंधन दल को सतर्क पर रखा है, आपकों जानकारी के लिए बता दे की बाघमारा में जगह-जगह पर पेड़ों को उखड़ने की सूचना है।