भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली(India's Test Captain Virat Kohli), वीरेंद्र सहवाग (Virendra sehwag) और वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) सहित पूर्व क्रिकेटरों और मौजूदा खिलाडिय़ों ने मुंबई 26/11 (Mumbai 26/11) के 13वीं वर्षगांठ पर शहीद हुए नायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। 2008 में यह हमले भारी हथियारों से लैस लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के आतंकवादियों द्वारा किए गए थे, कुल 175 लोग मारे गए थे।

इस पर भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान कोहली ने ट्वीट किया, ''हम इस दिन को कभी नहीं भूलेंगे, इस हमले में जीवन गंवा चुके लोगों को भी नहीं भूलेंगे। मेरी प्रार्थना, उन दोस्तों और परिवारों के लिए जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया।

पूर्व क्रिकेटर सहवाग ने मुंबई पुलिस के सहायक सब इंस्पेक्टर तुकाराम (जो इस हमले में शहीद हो गए थे) की तस्वीर के साथ एक भावुक संदेश ट्वीट किया, 'इन्होंने अपने प्राणों को न्योछावर कर एकमात्र आतंकवादी अजमल कसाब को पकडऩे में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।' सहवाग ने लिखा, '13 साल बाद आज का दिन बेहद दुखद है। महान सपूत शहीद तुकाराम ओंबले इस दिन शहीद हो गए थे।'

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद ने हमले में जान गंवाने वाले पुलिस और सेना के जवानों की एक तस्वीर ट्वीट कर लिखा, 'हम इन बहादुर पुलिसकर्मियों के बहुत ऋणी हैं, जिन्होंने न केवल मातृभूमि की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दी, बल्कि कसाब को पकड़कने में भी अहम भूमिका निभाई।'