बिहार स्वास्थ्य विभाग (Bihar Health Department) ने तीन कोविड-19 केंद्रों (covid-19 center) को टीके की दूसरी खुराक दिए बिना 50 से अधिक व्यक्तियों के नाम केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग (central health department) की वेबसाइट पर अपलोड करने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया है। पटना की सिविल सर्जन वीणा कुमारी ने कहा कि पटना पॉलिटेक्निक कॉलेज, कंकड़बाग स्वास्थ्य केंद्र और पाटलिपुत्र स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स स्थित केंद्रों पर अनियमितताएं पाई गईं हैं।

सिविल सर्जन ने कहा, हमने तीनों केंद्रों को नोटिस दिया है और उन्हें जल्द से जल्द मुख्य चिकित्सा अधिकारी (chief Medical Officer) के कार्यालय में जवाब देने को कहा है। यह घटना तब सामने आई जब पटना के कुछ निवासी अपनी दूसरी खुराक लेने के लिए कोविड टीकाकरण केंद्रों पर गए। अधिकारियों ने उन्हें बताया कि वे दूसरी खुराक ले चुके हैं और उनके नाम केंद्र सरकार की वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं।

उन्होंने कहा, कुछ लोगों ने पिछले हफ्ते मेरे कार्यालय से संपर्क किया और उसी के संबंध में शिकायत दर्ज कराई। तदनुसार, हमने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है। अधिकारी ने कहा कि सॉफ्टवेयर में तकनीकी गड़बड़ी ऐसी अनियमितता का एक कारण हो सकती है। अधिकारियों ने बताया कि कई लोगों ने वैक्सीन की दूसरी खुराक समय पर नहीं ली है। कोविड -19 (covid19) के नए वैरिएंट के खतरे के बाद वे अपनी दूसरी खुराक लेने के लिए केंद्रों पर आ रहे हैं।