पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) के मुताबिक, डेल्टा के नाम से भी जाने जाना वाला कोरोनावायरस वेरिएंट बी.1.6172 ब्रिटेन में परेशानी की एक नई वजह बनता जा रहा है।

पीएचई के आंकड़ों के हवाले से एक समाचार एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा, पिछले हफ्ते से वेरिएंट के मामलों की संख्या 5,000 से अधिक बढ़कर 12,431 हो गई है। पीएचई के अधिकारियों का कहना है कि यह वेरिएंट अब ब्रिटेन में अधिक प्रभावशाली रहे केंट वेरिएंट से आगे निकल गया है, जिसे अल्फा के नाम से भी जाना जाता है।

ब्रिटेन में स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी के मुख्य कार्यकारी जेनी हैरिस ने कहा, यहां इस वेरिएंट के अधिक प्रभावशाली होने के बाद अब हमारे लिए यह जरूरी है कि हम सभी अधिक सावधानी बरतें। इसके लिए यथासंभव घर पर रहकर ही काम करें, हाथों और चेहरे को अच्छे से धोएं और स्वच्छता बरतें। पीएचई के मुताबिक हो सकता है कि बी.1.6172 वेरिएंट से अस्पतालों में एडमिट होने वाले मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो, लेकिन इसकी पुष्टि करने के लिए आगे मिलने वाले आंकड़ों की जरूरत है। ब्रिटेन में अब तक कोरोना के मामलों की संख्या 4,515,778 दर्ज हुई हैं और 128,075 लोगों की जान गई है।