प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से योग दिवस की तैयारियों में जुटने का आह्वान करते हुए सभी से इसमें पूरे उत्साह के साथ बढ चढ कर हिस्सा लेने तथा योग का अपने जीवन में शामिल करने की अपील की है। मोदी ने रविवार को आकाशवाणी पर अपने मासिक कार्यक्रम मन की बात में देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि आगामी 21 जून को आठवां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है और इस बार का थी मानवता के लिए योग रखा गया है। 

यह भी पढ़े : शनि का कुंभ राशि में प्रवेश : इन राशियों पर एक बार फिर शुरू होगा शनि का अशुभ प्रभाव, शनि जयंती पर करें ये उपाय

उन्होंने कहा कि आप सभी कोरोना से संबंधित सावधानियां बरतते हुए योग दिवस से संबंधित कार्यक्रमों हिस्सा लें और इसकी तैयारियों में जुट जायें। इस बारे के योग दिवस से संबंधित विशेषाताओं को साझा करते हुए उन्होंने कहा, 'बार इस बार देश-विदेश में 'योग दिवस' पर कुछ नई चीजें की जा रही हैं और इन्हीं में से एक है गार्डियन रिंग यह एक बड़ा ही अनोखा कार्यक्रम होगा। इसमें सूर्य की गति को सेलिब्रेट किया जाएगा, यानी, सूरज जैसे-जैसे यात्रा करेगा, धरती के अलग-अलग हिस्सों से, हम, योग के जरिये उसका स्वागत करेंगे। 

अलग-अलग देशों में भारतीय मिशन में वहाँ के स्थानीय समय के मुताबिक सूर्योदय के समय योग कार्यक्रम आयोजित करेंगे। एक देश के बाद दूसरे देश से कार्यक्रम शुरू होगा। पूरब से पश्चिम तक निरंतर यात्रा चलती रहेगी, फिर ऐसे ही, ये, आगे बढ़ता रहेगा।' उन्होंने कहा कि इस बार 'अमृत महोत्सव' को ध्यान में रखते हुए देश के 75 प्रमुख स्थानों पर 'अंतरराष्ट्रीय योग दिवस' का आयोजन होगा। इस अवसर पर कई संगठन और देशवासी अपने-अपने स्तर पर अपने-अपने क्षेत्र की खास जगहों पर कुछ न कुछ नया करने की तैयारी कर रहे हैं। 

यह भी पढ़े : शनि जयंती 30 मई को, 141 दिन शनि चलेंगे उल्टी चाल, इन राशि वालों की बढ़ेंगी मुश्किलें

उन्होंने कहा, 'मैं, आपसे भी ये आग्रह करूँगा, इस बार योग दिवस मनाने के लिए, आप, अपने शहर, कस्बे या गाँव के किसी ऐसी जगह चुनें, जो सबसे खास हो। ये जगह कोई प्राचीन मंदिर और पर्यटन केंद्र हो सकता है, या फिर, किसी प्रसिद्ध नदी, झील या तालाब का किनारा भी हो सकता है। इससे योग के साथ-साथ आपके क्षेत्र की पहचान भी बढ़ेगी और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।' मोदी ने कहा कि इस समय 'योग दिवस' को लेकर 100 दिन का काउंटडाउन भी जारी है।

दिल्ली में 100वें दिन और 75वें दिन के काउंटडाउन कार्यक्रम हुए हैं। वहीं, असम के शिवसागर में 50वें और हैदराबाद में 25वें काउंटडाउन आयोजित किये गए।। उन्होंने कहा, 'मैं चाहूँगा कि आप भी अपने यहाँ अभी से 'योग दिवस' की तैयारियाँ शुरू कर दीजिये। ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलिए, हर किसी को 'योग दिवस' के कार्यक्रम में जुडऩे के लिए आग्रह कीजिये, प्रेरित कीजिये। मुझे पूरा भरोसा है कि आप सभी 'योग दिवस' में बढ़-चढ़कर के हिस्सा लेंगे, साथ ही योग को अपने दैनिक जीवन में भी अपनाएंगे।'