केंद्र सरकार ने Covishield वैक्सीन लगवाने वाले नागरिकों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। इसके तहत अब आप 28 दिन बाद ही इसकी दूसरी डोज लगवा सकते हैं। लेकिन इसके लिए एक शर्त पूरी करनी होगी। शर्त ये है कि सिर्फ विदेश यात्रा पर जाने वाले लोग ही पहली खुराक के 28 दिन बाद कभी भी कोविशील्ड की दूसरी डोज लगवा सकते हैं। हालांकि, सामान्यतौर पर कोविशील्ड के लिए केंद्र सरकार ने पहली डोज और दूसरी डोज के बीच 12 से 16 हफ्ते का गैप रखा है।

नई गाइडलाइन में कहा गया है कि विदेश यात्रा के लिए सिर्फ कोविशील्ड वालों को ही वैक्सिनेशन सर्टिफिकेट दिया जाएगा। इस सर्टिफिकेट पर पासपोर्ट नंबर का भी जिक्र होगा। भारत की दूसरी वैक्सीन कोवैक्सिन इसके लिए क्वॉलिफाई नहीं कर रही है।
यह गाइडलाइन उन लोगों के लिए जारी की गई है जो 18 साल से ज्यादा उम्र के हैं और 31 अगस्त तक विदेश यात्रा पर जाना चाहते हैं। इसमें पढ़ाई के लिए विदेश जा रहे स्टूडेंट्स, नौकरी के लिए विदेश जा रहे लोग, तोक्यो ओलिंपिक्स गेम्स में शामिल खिलाड़ी और उनके साथ जाने वाला स्टाफ शामिल है। ये व्यवस्था इन्हीं के लिए की गई है।
वैसे तो कोविशील्ड की दो डोज के बीच 12 से 16 हफ्ते का गैप का नियम है लेकिन इस कटैगरी में विदेश जाने वालों को जल्द ही दूसरी डोज लग सकती है। अथॉरिटी देखेगी कि पहली डोज को लगे हुए 28 दिन हो गए हैं या नहीं। जल्द ही इस कटैगरी में विदेश जाने वालों के लिए ये खास व्यवस्था कोविन प्लेटफॉर्म पर भी दिखाई देगी।केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोविड-19 की वैक्सीन लगवाने के लिए जरूरी फोटो आईडी में यूनीक डिसैबिलिटी आईडी कार्ड (UDID) को भी शामिल करने का निर्देश दिया है। मालूम हो कि वैक्सीन लगवाने के लिए किसी भी मोड से रजिस्‍ट्रेशन कराने से पहले पहचान पत्र दिखाना होता है। ऐसे में दिव्यांग अब यूडीआईडी दिखाकर टीकाकरण का लाभ ले सकते हैं।