कोरोना वायरस संकट में यूएई भारत के साथ खड़ा हो गया है और उसने  दुबई में मौजूद विश्व की सबसे ऊंची बिल्डिंग जबरदस्त मैसेज लिखा है। इस बिल्डिंग पर भारत के लिए तिरंगे झंडे के साथ ’स्टे स्ट्रोग इंडिया लिखा गया। इसी के साथ ही  पाकिस्तान-चीन समेत भारत के कई पड़ोसी देशों ने मदद का हाथ बढ़ाया है।
यूएई में भारत के दूतावास ने ट्विटर पर लिखा है, ’’भारत कोरोना वायरस के खिलाफ भीषण युद्ध लड़ रहा है, ऐसे में उसका मित्र यूएई अपनी शुभकामनाएं भेजता है। भारतीय दूतावास ने इसका एक वीडियो भी ट्विटर पर शेयर किया है।

भारत में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए सऊदी अरब से 80 मीट्रिक टन जीवन रक्षक गैस लायी जा रही है। ऑक्सीजन को भेजने का काम अडानी समूह और लिंडे कंपनी के सहयोग से हो रहा है। भारत में एक्टिव मरीजों की संख्या 26 लाख के पार चली गई है। जबकि अबतक एक लाख 92 हजार 311 लोगों की मौत हो चुकी है।
रियाद स्थित भारतीय मिशन ने ट्वीट किया,  ’भारतीय दूतावास को अति आवश्यक 80 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन भेजने के मामले में अडानी समूह और एमध्एस लिंडे के साथ साझेदारी करने पर गर्व है। हम हृदय से सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्रालय को सभी तरह की मदद, समर्थन और सहयोग के लिए धन्यवाद देते हैं।’

देश में ऑक्सीजन की बढ़ती मांग के मद्देनजर भारत ने ’ऑक्सीजन मैत्री’ ऑपरेशन के तहत ऑक्सीजन कंटेनर और ऑक्सीजन सिलेंडर प्राप्त करने के लिए विभिन्न देशों से संपर्क किया है। भारतीय वायुसेना शनिवार को चार क्रायोजेनिक टैंक सिंगापुर से लेकर आई थी।