पहले से ही कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहे बिहार में अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का घर भी इसकी चपेट में आ चुका है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बख्तियारपुर स्थित आवास को सेनेटाइज किया गया है। पता चला है कि मुख्यमंत्री आवास पर तैनात 6 बीएमपी के जवान में से चार कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। लिहाजा कोरोना की बढ़ते कहर को देखते हुए बख्तियारपुर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पैतृक आवास को नगर परिषद की टीम ने सेनेटाइज किया है।


बाढ़ अनुमंडल के एसडीओ सुमित कुमार ने नवभारत टाइम्स को बताया कि सुबह आठ बजे करीब 1 घंटे तक नगर परिषद के कर्मियों ने पूरे घर के कोने-कोने की अच्छी तरह से सेनेटाइज करने का काम किया। मुख्यमंत्री आवास के साथ-साथ एक किलोमीटर के दायरे वाले सभी आवासों का भी सेनेटाइजेशन किया गया है।बाढ़ अनुमंडल के एसडीओ ने बताया कि शाम चार बजे फिर से मुख्यमंत्री के आवास के साथ एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी घरों का दोबारा सेनेटाइजेशन किया जाएगा।एसडीओ सुमित कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री आवास में तैनात 6 सुरक्षाकर्मी पटना से आए थे। जिनमें से चार कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस पैतृक घर में फिलहाल कोई नहीं रहता है। बता दें कि बाढ़ अनुमंडल में कोरोना पॉजिटिव की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और अभी तक 52 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं।बिहार में कोरोना मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 1,363 हो गया है। इस बीच सोमवार को बिहार में कोरोना से 9वीं मौत हुई है। एनएमसीएच में भर्ती कोरोना पॉजिटिव 75 वर्षीय महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई, वो हाजीपुर की रहने वाली थी और कैंसर से पीड़ित थी। बीते 16 मई को गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था।