Bank कर्मचारियों पर Corona वायरस का कहर टूटा जिसके चलते 100000 से अधिक संक्रमित हुए जबकि, 1000 हजार की मौत हो गई। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के सेकरेट्री एस नागारंजन ने बताया कि पिछले एक साल से अधिक समय से चल रहे इस कोरोना काल में अब तक 1 हजार बैंक कर्मचारियों की मौत हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि, “बैंक कर्मचारी फ्रंट लाइन वर्कर है और कोरोना उसे सबसे अधिक प्रभावित कर रहा है।” दरअसल, कोरोना की दूसरी लहर बैंकिंग कर्मचारियों के लिए काफी घातक साबित हुई है। आंकड़ों के मुताबिक, अब तक देश में 1 लाख कर्मचारी कोरोना की चपेट में हैं तो वहीं 1 हजार कर्मचारी अपनी जान गवां चुके हैं।

ऑल इंडिया बैंक एंप्लॉयीज एसोसिएशन के महासचिव सी.एच वेंकटचलम ने कहा, देश में करीब 15 लाख बैंकिंग कर्मचारी हैं जिसमें से अब तक एक लाख कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि गुजरात में 15 हजार बैंक कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हैं तो वहीं 30 की मौत हो चुकी है। वहीं, मध्य प्रदेश में 46 कर्मचारियों की मौत कोरोना के चलते हो गई है। बताया जा रहा है कि कोरोना के कारण हुई मौते से कई बैंक शाखाओं को बंद कर दिया गया है।
वहीं, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र में बैंकों की सबसे अधिक शाखाएं हैं और यहां सबसे ज्यादा बैंक कर्मचारी कोरोना से पॉजिटिव हैं। लेकिन इन राज्यों में कितने कर्मचारी पॉजिटिव हैं और कितनों की मौत ये जानकारी अभी साफ नहीं है। वहीं, सी.एच वेंकटचलम ने बताया कि ये सभी बैंक वायरस के कारण मरने वालों के परिवारों के लिए मुआवजा नीतियों को साझा करने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं।