भारत में कोरोना वायरस की तीसरी लहर आ सकती है। क्योंकि एक्टिव केस और मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 45 हजार से अधिक नए मामले और 4लाख के करीब एक्टिव केस शामिल हैं, जो कि सरकार के साथ-साथ आम आदमी की भी चिंता बढ़ाने वाली है। हालांकि राहत की बात यह है कि देश में टीकाकरण के रफ्तार काफी अच्छी है। हर रोज करीब एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जा रही है।

मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे में 45,352 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। फिलहाल देश में 3,99,778 एक्टिव केस है, जो कि कुल मामलों का 1.22 प्रतिशत है। रिकवरी रेट राहत देने वाली है। 100 में करीब 97 मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। बीते 24 घंटे में 34,791 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। अभी तक देश में 3,20,63,616 मरीज या तो स्वस्थ हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।कोरोना संक्रमण की बढ़ती चिंता के बीच टीकाकरण की रफ्तार भी सराहनीय है। देश में अब तक 67.09 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं। साथ ही अभी तक 52.65 करोड़ सैंपल की जांच की जा चुकी है।केरल में कोविड-19 के 32,097 नये मामले, 188 मरीजों की मौत
केरल में गुरुवार को कोविड-19 के 32,097 नये मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 41,22,133 हो गयी जबकि 188 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 21,149 पर पहुंच गयी। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी। केरल में बीते 24 घंटे के दौरान 1,74,307 नमूनों की कोविड-19 जांच होने के साथ संक्रमण की दर 18.41 प्रतिशत हो गयी है। राज्य में अब तक 3,19,01,842 नमूनों की कोविड-19 जांच हो चुकी है।केरल में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 21,634 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 38,60,248 हो गयी। राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2,40,186 हो गयी है। विभिन्न जिलों में इस समय 5,68,087 लोगों को निगरानी में रखा गया है, जिसमें से 33,282 लोग अस्पतालों में हैं।