दिल की गहराइयों से निकली भावना में लोग क्या-क्या नहीं कर डालते हैं। इसी तरह का उदाहरण मंगलवार को जिला के जेपी सेनानी राजेंद्र प्रसाद उर्फ राजकुमार महतो ने पेश किया।


पेशे से किसान राजेंद्र सुबह घर से खेतों से खाद-बीज खरीदने निकले थे। लाचार लोगों को देखकर सारा पैसा उन लोगों को दे दिया। राजेंद्र प्रसाद शेखपुरा शहरी क्षेत्र के खांडपर के निवासी है।


सुबह में वे घर से खाद-बीज के लिए घर से निकले थे। इस दौरान वे पहले अपने खेत देखने हसनगंज रेलवे क्रासिग के पास चले गये। इस दौरान उन्हें रेलवे ट्रैक पर पैदल चलते 13 लोगों का एक जत्था दिखा। वे रुककर उन लोगों से जब पूछताछ किया तो पता मालूम हुआ ये लोग मजदूर हैं तथा लॉकडाउन की वजह से गया से पैदल अभयपुर (मुंगेर) जा रहे हैं।


इन लोगों ने सोमवार की दोपहर से कुछ खाया भी नहीं था। यह सुनकर राजेंद्र ने अपनी जेब में रखे खाद-बीज के 16 सौ रुपया इन लाचारों को दान कर दिया। राजेंद्र पहले भी इस तरह के कई अनूठे कार्य कर चुके हैं।