कोरोना वायरस थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। कोरोना के खिलाफ अभी तक सफल वैक्सीन भी तैयार नहीं हुई है। रूस की दो वैक्सीन सफल हो गई है लेकिन वैज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना वायरस हर इलाके के मुताबिक अलग अलग रूप लेकर आ रहा है तो इसके खिलाफ एक ही वैक्सीन तैयार करना सही नहीं है। अब तक कोरोना के 10 अवतार जन्म ले चुके हैं। जिनको कई लोग मात भी दे चुके हैं 4 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना अपना शिकार बना चुका है।


कोरोना से दुनियाभर में संक्रमण का प्रसार हो चुका है लेकिन कई वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कोरोना एक बार फिर नए अवतार में आ रहा है। इसके प्रकोप से बचने के लिए फ्रांस के बाद अब ब्रिटेन ने भी Lockdown-2 का की घोषणा की है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने देश में दूसरे लॉकडाउन की घोषणा की है। इस खबर के बाद भारत ने भी लॉकडाउन फिर लगाने पर विचार कर रहा है। एम्स दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने चेताया कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर शुरू हो गई है।  क्योंकि लापरवाही और वायु प्रदूषण के कारण संक्रमण लगातार बढ़ रहा है।


अगर इसमे सावधानी नहीं बरती तो स्थिति भयावह हो सकती है। भारत में मौतों की संख्या 1,22,111 हो गई है। देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या 5,70,458 और ठीक हुए मामलों की संख्या 74,91,513 है। लॉकडाउन-2 5 नवंबर से शुरू होगा और 2 दिसंबर तक जारी रहेगा। यूरोप में कोरोना के मामलों में अचानक आयी तेजी के बाद फ्रांस सरकार ने दूसरी बार लॉकडाउन लगा दिया। यह घोषणा करते ही कुछ घंटे पहले पेरिस में लोगों के बीच शहर छोड़ने की होड़ लग गई और ट्रैफिक इतना बढ़ गया कि सड़कों पर 700 किमी लंबा जाम लग गया।