दुनिया भर में दहशत का दूसरा नाम बने ओमिक्रॉन (omicron) अब भारत में भी अपने पैर पसार रहा है। देश में अब तक ओमिक्रॉन के 26 मामले सामने आ चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल (Love agarwal) ने कहा, अब तक देश में ओमिक्रॉन के 26 मामलों का पता चला है। सभी मरीजों में संक्रमण के लक्षण हल्के हैं। ओमिक्रॉन (omicron) के मामले कोविड के सभी वेरियंट्स के 0.04 प्रतिशत से भी कम हैं। हालांकि राहत भी बात यह है कि कोरोना वायरस के नए ओमिक्रॉन वैरिएंट (omicron) से संक्रमित किसी भी मरीज में गंभीर लक्षण नहीं देखें गए हैं।

लव अग्रवाल ने कहा कि ओमिक्रॉन का एक और नया मामला सामने आया है, जिससे देश में नए वैरिएंट के मामले बढ़कर 26 हो गए हैं। उन्होंने कहा, कुछ देर पहले ही मुंबई (omicron cases in Mumbai) के धारावी में एक शख्स ओमिक्रॉन से संक्रमित पाया गया है। 49 वर्षीय व्यक्ति 4 दिसंबर को तंजानिया से लौटा है। उसने वैक्सीन नहीं ली है और उसमें ओमिक्रॉन के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं।

ऐसे में सरकार ने लोगों में मास्क को लेकर बढ़ती लापरवाही पर चेतावनी दी है। नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (Dr, VKpaul) ने कहा, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) मास्क से जुड़ी लापरवाही को लेकर चेतावनी दे रहा है। वैश्विक हालात चिंताजनक हैं। हमें इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि मास्क और वैक्सीन दोनों ही जरूरी हैं।