विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि भारत में पाए गए कोविड वेरिएंट का प्रसार कम से कम 17 देशों में हो चुका है। इस डबल म्यूटेंट कोविड वेरिएंट की पहचान बी1617 के रूप में की गई है।

संगठन ने अपने बयान में कहा कि मंगलवार को कम से कम 17 देशों से जीआईएसएआईडी ओपन-एक्सेस डेटाबेस पर अपलोड किए गए 1,200 से ज्यादा सिक्वेंस में इसके होने का पता चला था। संगठन ने महामारी पर अपने साप्ताहिक महामारी विज्ञान अपडेट में कहा, इसके ज्यादातर सिक्वेंस भारत, ब्रिटेन, अमेरिका और सिंगापुर से अपलोड किए गए थे। जीआईएसएआईडी एक जर्मन गैर लाभकारी संगठन है, जिसे साल 2016 में फ्लू जीनोम पर डेटाबेस साझा करने के लिए तैयार किया गया था।

डब्ल्यूएचओ ने अपने अपडेट में कहा, दुनियाभर में पिछले लगातार नौ हफ्तों से कोरोना के मामलों में भारी इजाफा देखने को मिल रहा है। पिछले हफ्ते दुनिया भर से करीब 57 लाख मामलों की पुष्टि हुई थी, जो पहले दर्ज हुई अधिकतम संख्या को पार कर गया है। भारत की बात करें, तो यहां पिछले हफ्ते में पूरी दुनिया के कुल मामलों का 38 प्रतिशत केस दर्ज हुआ है।