कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद भी कई लोग संक्रमित हुए हैं। अब पहली बार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने टीका लगने के बाद संक्रमितों की आधिकारिक जानकारी सार्वजनिक की है। जिसके अनुसार, टीका लगवाने वाले 10 हजार में से दो से चार लोग संक्रमित हुए हैं। 

देश में अब तक 93,56,436 लोगों ने कोवाक्सिन की पहली डोज ली, जिनमें से 4208 संक्रमित हुए। वहीं 17,37,178 में से 695 दूसरी डोज के बाद संक्रमित हुए। 10,03,02,745 ने कोविशील्ड की पहली डोज ली थी और इनमें से 17,145 संक्रमित हुए। वहीं 1,57,32,754 ने दूसरी डोज ली थी, जिनमें से 5014 वायरस की चपेट में आए। डॉक्टर्स का कहना है कि टीका लेने के बाद लोग संक्रमित हो सकते हैं लेकिन मरीज के गंभीर हालत में पहुंचने की आशंका बेहद कम है।

गौरतलब है कि भारत में पिछले 24 घंटों में 3,14,835 कोविड-19 के नए मामले सामने आए, जो पिछले साल महामारी की शुरूआत के बाद से सबसे बड़ा आंकड़ा है, इसी के साथ कुल मामले 1,59,30,965 हो गये हैं। 15 अप्रैल से भारत में लगातार 2 लाख से अधिक नये मामले सामने आ रहे हैं। बुधवार को 2,95,041 नए मामले सामने आए, 20 अप्रैल को 2,59,170 मामले, 19 अप्रैल को 2,73,510, 18 अप्रैल को 2,61,500, 17 अप्रैल को 2,34,692, 16 अप्रैल को 2,17,353 और 15 अप्रैल को 2,00,393 मामले सामने आए।

इस बीच, वायरस के कारण 2,104 और लोगों की मृत्यु हो गई, जिसके बाद मरने वालों की कुल संख्या 1,84,657 हो गई। यह लगातार दूसरा दिन है जब देश में एक ही दिन में 2,000 से अधिक मौतें दर्ज की हैं।बुधवार को 2,023 मौतें हुईं, जो कि अब तक का एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है। वहीं देश में सक्रिय मामलों की संख्या 2,29,142 हो गई है। पिछले 24 घंटों में कुल 1,78,841 संक्रमित लोग रिकवर हुए, जिसके बाद कुल रिकवरी 1,34,54,880 हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटों में कुल 16,51,711 नमूनों का टेस्ट किया गया। देश में अब तक कुल 27,27,05,103 नमूनों का टेस्ट किया जा चुका है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, कुल 22,11,334 लोगों को भी इसी अवधि में टीका लगाया गया, इसी के साथ कुल टीका की संख्या 13,23,30,644 हो गई है।