देश के 15 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना से पिछले 24 घंटों में एक भी मौत का मामला सामने नहीं आया है। वहीं सात राज्य और केंद्रशासित प्रदेश ऐसे हैं, जहां पिछले तीन सप्ताह में कोरोना से किसी की मृत्यु नहीं हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी।

भारत में प्रतिदिन सामने आने वाले कोविड-19 के मामलों में भी गिरावट आ रही है। मंत्रालय ने रेखांकित किया कि कोविड-19 के प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों में गिरावट और लोगों के ठीक होने की दर में वृद्धि के चलते उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कमी आई है। देश में कोविड-19 से होने वाली मौत की संख्या भी घट रही है। मंत्रालय ने कहा कि जनवरी के दूसरे सप्ताह में रोजाना मौतों का औसत 211 था और फरवरी के दूसरे सप्ताह में इसमें 55 प्रतिशत की कमी आई और यह 96 रह गई है।

भारत में उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी घटकर 1.43 लाख रह गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का महज 1.32 प्रतिशत है। पिछले चौबीस घंटों में कोविड-19 के 14,016 मरीज ठीक हुए। अब तक कोविड-19 के कुल 1,05,48,521 मरीज ठीक हो चुके हैं। मंत्रालय ने कहा, ठीक होने वाले और उपचाराधीन मरीजों के बीच का अंतर बढ़ता जा रहा है. यह आज 1,04,04,896 हो गया। भारत में ठीक होने वाले मरीजों की दर 97.25 प्रतिशत हो गई है, जिस विश्व में स्वस्थ होने वाली सर्वाधिक दर में से एक है। मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन, इटली, रूस, ब्राजील और जर्मनी में ठीक होने की दर भारत से कम है। मंत्रालय के अनुसार, नौ फरवरी सुबह आठ बजे तक 62.6 लाख लोगों को कोविड-19 का टीका दिया जा चुका है। इनमें से 5,482,102 स्वास्थ्य कर्मी हैं और 7,76,906 अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मी हैं।