कोरोना वायरस के संक्रमण के देश में तेजी से फैलने के बीच विश्व बैंक ने भारत को एक अरब डॉलर यानी करीब 76 अरब रुपए की मदद देने की घोषणा की है। विश्व बैंक के भारत में कंट्री निदेशक जुनैद अहमद ने यह जानकारी देते हुए कहा कि विश्व बैंक के कार्यकारी निदेशक मंडल ने इसको अनुमोदित कर दिया है।

निदेशक मंडल ने इसके लिए भारत में एक परियोजना को मंजूरी दी है, जो एक अरब डॉलर की है। उन्होंने कहा कि इन राशि का कोरोना वायरस रोगियों की बेहतर जांच, संपर्क में आने वालों का पता लगााने और प्रयोगशाला निदान में उपयोग किया जा सकेगा। इसके साथ ही इससे व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों की खरीद और नए अलगाव वार्डों की स्थापना भी किया जाएगा। इमरजेंसी फंडिंग विश्व बैंक की ओर से कोरोना वायरस प्रकोप से जूझ रहे दुनिया भर के विकासशील देशों के लिए सहायता अभियानों के पहले चरण का हिस्सा है।

देश में 2900 के पार पहुंचा आंकड़ा

देश में कोरोना पॉजिविट मरीजों की संख्या 2902 तक पहुंच गई है। वहीं इस वायरस ने अभी तक 68 लोगों की जान ले ली है। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के 478 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रकोप महाराष्ट्र में है जहां 490 मामले सामने आए हैं और 26 लोगों की जान गई है। वहीं आगरा में आज सुबह 25 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब यहां मरीजों की संख्या 45 हो गई है। वहीं राजस्थान सहित तेलंगाना में दो बुजुर्ग महिलाओं की मौत हुई है। वहीं पाकिस्तान में भी कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 2637 पहुंच गया है। वहीं 40 लोगों की अब तक यह वायरस जान ले चुका है। पाकिस्तान में भी अब सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर सख्ती की जा रही है।